छत्तीसगढ़

कृषि कानून को सीएम भूपेश बघेल 24 सितंबर को करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस

मंत्री चौबे ने कहा- किसानों को नहीं मिलेगा संरक्षण

रायपुर: मोदी सरकार द्वारा किसानों के लिए लाए गए कृषि विधेयक कानून को लेकर देश के कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है। कई राज्यों में किसानों के सड़कों पर उतकर आंदोलन भी किया है। वहीं दूसरी ओर इस कानून को लेकर देश के सियासी गलियारों में भी गहमागहमी मची हुई है। इसी कड़ी में छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कृषि विधेयक कानून को लेकर बड़ा बयान दिया है।

मंत्री रविंद्र चौबे ने मीडिया से बात करते हुए मंगलवार को कहा है कि कृषि विधेयक कानून का पूरे हिंदुस्तान में विरोध हो रहा है। हालत ऐसी है कि सरकार अपने सहयोगी दल को ही नहीं समझा पाई। इस कानून से किसानों को किसी प्रकार का संरक्षण नहीं मिलेगा।

इस दौरान कृषि मंत्री ने रबी फसलों के समर्थन मूल्य में वृद्धि को लेकर भी मोदी सरकार पर हमला किया है। उन्होंने कहा है कि केंद्र द्वारा रबी फसलों के स मर्थन मूल्य में वृद्धि उंट के मुंह में जीरा के समान है। बढ़ाई गई एमएसपी लागत के मुकाबले काफी कम है।

दूसरी ओर कांग्रेस पार्टी इस कानून को लेकर चरणबद्ध तरीके से विरोध प्रदर्शन की तैयारी कर रही है। कानून को लेकर प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल 24 सितम्बर को प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया और प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम भी मौजूद रहेंगे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button