CM भूपेश ने ट्वीट कर लिखा – नक्सली को गोलियों का जवाब उनकी भाषा में ही दिया जाए..

रायपुर। बस्तर लोकसभा सीट में चुनाव से पहले हुए नक्सली हमले की मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कड़ी निंदा की है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि नक्सलियों को गोलियों का जवाब उनकी भाषा में ही दिया जाए। उन्होंने सीएम निवास में चल रही उच्चस्तरीय बैठक का भी जिक्र किया।

आपको बता दें कि दंतेवाड़ा जिले के बचेली में चुनावी जनसंपर्क कर कुआकोडा लौट रहे बीजेपी विधायक भीमा मंडावी के काफिले को नक्सलियों ने आइइडी ब्लास्ट कर उठा दिया। हमले में विधायक सहित एक ड्राइवर और 3 पीएसओ जवान शहीद हो गए।

हम एक बार फिर दृढ़ता के साथ संसदीय लोकतंत्र को मजबूत करने की अपनी लड़ाई के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हैं। मैं शीर्ष अधिकारियों के साथ घटना की समीक्षा कर रहा हूं। मैंने अधिकारियों के लिए निर्देश दोहराया है कि नक्सली गोलियों का जवाब उनकी भाषा में ही दिया जाए।

भाजपा ने की सीबीआई जांच की मांग

भारतीय जनता पार्टी ने नक्सली हमले को राजनीतिक साजिश बताया है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी डॉ. अनिल जैन ने विधायक भीमा मंडावी और जवानों की मौत पर गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा, माओवाद संरक्षक कांग्रेस सरकार के कारण माओवादियों ने इस कायरतापूर्ण घटना को अंजाम दिया है। यह राजनीतिक साजिश है और कांग्रेस इससे अपना दामन नहीं बचा सकती। इसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए।

राज्यपाल ने की निंदा, जताया शोक

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने माओवाद द्वारा किए गए विस्फोट में दंतेवाड़ा विधायक भीमा मण्डावी एवं सुरक्षा बल के जवानों के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने घटना की निन्दा करते हुए कहा है कि माओवादियों द्वारा जनप्रतिनिधि और सुरक्षा बलों पर हमला एक कायराना कृत्य है। माओवादियों के लोकतंत्र विरोधी इरादे कभी सफल नहीं हो सकेंगे।

Back to top button