छत्तीसगढ़

सीएम ने कांग्रेस नेता पर साधा निशाना कहा, केवल व्हाट्सएप और ट्विटर से नहीं चलती राजनीति

कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पी एल पुनिया के एक बयान पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने चुटकी ली है । सीएम ने कहा कि कांग्रेस के बड़े नेता सवेरे भी डरते हैं, दिन में भी डरते हैं, अब वह रात में भी डर रहे हैं. अब मैं इसका क्या उपाय ढूंढू. उन्होंने कहा कि अपनी पार्टी को मजबूत करने के लिए काम करना चाहिए

सीएम ने कांग्रेस नेता पर साधा निशाना कहा, केवल व्हाट्सएप और ट्विटर से नहीं चलती राजनीति

रायपुर : कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पी एल पुनिया के एक बयान पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने चुटकी ली है । सीएम ने कहा कि कांग्रेस के बड़े नेता सवेरे भी डरते हैं, दिन में भी डरते हैं, अब वह रात में भी डर रहे हैं. अब मैं इसका क्या उपाय ढूंढू. उन्होंने कहा कि अपनी पार्टी को मजबूत करने के लिए काम करना चाहिए.

दुनिया से डरने की जरूरत नहीं है. जब खुद मजबूत हो जाएंगे, तो फिर किसी से डरने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी. मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि कांग्रेस के नेता आने वाले समय के लिए अभी से ही बहाना ढूंढ रहे हैं. उन्हें इस बात का डर है कि 2018 में उन्हें बड़ी हार का सामना करना पड़ेगा.

गौरतलब है कि पुनिया ने अपने बयान में अजीत जोगी की ओर इशारे करते हुए उन्हें जयचंद करार दिया था. पुनिया ने कहा था कि पहले के चुनाव और इस बार के चुनाव में बड़ा फर्क यह है कि पहले पार्टी में रहकर पार्टी के कंडीडेट के खिलाफ काम करने वाले जयचंद की विदाई हो गई है, जो बीजेपी को जिताने का काम करते थे.

अब भी वह बाहर से बीजेपी को फायदा पहुंचा रहे है। वहीं सीएम ने भूपेश पर भी हमला बोलते हुए कहा कि केवल व्हाट्स एप से राजनीति नहीं चलती. पसीना बहाना पड़ता है. पिछले दो महीने से हमारे 18 हजार कार्यकर्ता जमकर पसीना बहा रहे हैं. ये होता है संगठन ताकत. ये लोग तो केवल होटल में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हैं और व्हाट्स एप ट्विटर पर राजनीति करते हैं. इससे मतदाता को असर नहीं पड़ता.

भूपेश बघेल का काम यही है कि मैं क्या कर रहा हूँ, उसे ट्वीट करना. इसके अलावा उनकी कोई दूसरी दिनचर्चा नहीं है. ये अच्छा है कम से कम इसी को ट्वीट करते रहे. इससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता.

Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.