छत्तीसगढ़

सीएम ने धुस्का, पताल की चटनी और दूसरे देशी व्यंजनों का लिया आनंद

विधायक चिन्तामणि महाराज ने उन्हें भोजन के लिए किया आमंत्रित

रायपुर: छत्तीसगढ़ के चीफ मिनिस्टर भूपेश बघेल ने बलरामपुर जिले में कई योजनाओं का शिलान्यास के दौरान जिला मुख्यालय में प्रवास भी किया. खास बात ये रही कि सामरी के विधायक चिन्तामणि महाराज ने उन्हें भोजन के लिए आमंत्रित किया. जिसे बेहद सहजता से सीएम ने स्वीकार कर लिया.

सीएम ने विधायक के घर बेहद साधारण आदमी की तरह जमीन पर बैठकर बिना किसी दिखावे के बेहद सादगी के साथ छत्तीसगढ़ी व्यंजनों धुसका, पताल की चटनी और दूसरे देशी व्यंजनों का आनंद लिया.

जहां राजनीति में छुटभैय्या नेता तक तामझाम और लाव लश्कर के साथ खुद को वीआईपी साबित करने की होड़ में लगे रहते हैं वहां एक राज्य के सीएम का आम आदमी के मानिंद जीना न सिर्फ राजनीतिक बिरादरी को बहुत सारे संदेश देता है बल्कि भविष्य के नेताओं को सबक भी सिखाता है कि आम आदमी की बेहतरी को काम करने के लिए न सिर्फ आम आदमी जैसा सोचना, बोलना, उठना बैठना पड़ता है बल्कि आम आदमी के जीवन को आत्मसात भी करना पड़ता है.

छत्तीसगढ़ के सीएम अपनी सादगी से कई बार ऐसा कर चुके हैं. इस बार फिर से चर्चा में है तो उनकी सादगी. लोग सीएम की सादगी पर चुटकी भी ले रहे हैं और कह रहे हैं कि सीएम साहब! एक ही दिल है कितनी बार जीतोगे.

Tags
Back to top button