मध्यप्रदेशराजनीतिराज्य

सीएम कमलनाथ ने 22 विधायकों को सुरक्षित वापस लाने शाह से की गुजारिश

भोपाल: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने देश के गृह मंत्री अमित शाह के नाम एक चिट्ठी लिखकर अमित शाह से गुज़ारिश की है कि बंगलुरु गए उनके 22 विधायकों को सुरक्षित वापस आने दिया जाए जिससे वो 16 मार्च से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र में हिस्सा ले सकें.

बता दें राज्यपाल लालजी टंडन ने शनिवार देर रात कहा कि सोमवार को विधानसभा में उनके अभिभाषण के फौरन बाद फ्लोर टेस्ट कराया जाए. राज्यपाल ने विधानसभा अध्यक्ष से कहा है कि विश्वासमत पर वोटिंग कराई जाए और पूरी कार्यवाही की वीडियोग्राफी भी कराई जाए.

इससे पहले, शनिवार को भारतीय जनता पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से मुलाकात की थी और विधानसभा में जल्द फ्लोर टेस्ट कराने की मांग की थी. बीजेपी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ पर कांग्रेस के बाग़ी 22 विधायकों को धमकाने और प्रलोभन देने का आरोप लगाया है.

बीजेपी का दावा है कि 22 विधायकों को इस्तीफ़े के बाद कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार पहले ही अपना बहुमत खो चुकी है. वहीं कमलनाथ सरकार के छह मंत्री पहले ही इस्तीफ़ा दे चुके हैं जिन्हें विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने स्वीकार कर लिया था.

इससे पहले, कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थन वाले 22 कांग्रेसी विधायकों ने भी मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन को एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने अपनी सुरक्षा की मांग की है.

समाचार एजेंसी के मुताबिक इन 22 में से 19 विधायक बंगलुरु में मौजूद हैं. उन्होंने एक ईमेल के ज़रिए राज्यपाल को चिट्ठी लिखी है और सुरक्षा कारणों की वजह से प्रदेश लौटने में असमर्थता जताई है. इस बीच

Tags
Back to top button
%d bloggers like this: