पीएम मोदी की मीटिंग में आधे घंटे देर से पहुंची सीएम ममता बनर्जी

कागज थमाकर बोली- चलती हूं...

नई दिल्ली: चक्रवाती तूफान ‘यास’ के व्‍यापक प्रभावों का आकलन करने के लिए पीएम मोदी ने आज ओडिशा और पश्चिम बंगाल का दौरा किया। इसके बाद पीमए मोदी ने स्थानीय प्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ तूफान के चलते हुए नुकसान और प्रभावों पर चर्चा की। वहीं, पश्चिम बंगाल में चुनाव समाप्त हुए करीब एक महीना गुजर गया है, लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी से ममता बनर्जी की नाराजगी शायद अभी दूर नहीं हुई है। इसका उदाहरण यास तूफान को लेकर पीएम मोदी की बैठक में देखने को मिला।

दरअसल यास चक्रवात से हुए नुकसान को लेकर पीएम मोदी के साथ समीक्षा बैठक में ममता बनर्जी 30 मिनट की देरी से पहुंचीं। इतना ही नहीं उन्होंने तूफान के चलते हुए नुकसान से जुड़े कुछ कागज थमाए और चलतीं बनी। सूत्रों के मुताबिक ममता बनर्जी का कहना था कि उन्हें कुछ मीटिंग्स में जाना है।

वहीं, पीएम मोदी की मीटिंग को लेकर ममता बनर्जी ने कहा कि मैं नहीं जानती थी कि पीएम मोदी ने मीटिंग बुलाई है। मेरी दीघा में एक और मीटिंग थी। मैं कलाईकुंडा गई थी और पीएम नरेंद्र मोदी को रिपोर्ट सौंपकर 20,000 करोड़ रुपये की मदद की मांग की है। 10,000 करोड़ की मांग दीघा और 10,000 करोड़ सुंदरबन के विकास के लिए मांगे हैं। मैंने उनसे कहा कि राज्य के अधिकारी मुझसे मिलना चाहते हैं। इसके बाद मैंने उनसे परमिशन ली और निकल गई।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button