सीएम वीरभद्र सिंह की संपत्ति में 5 साल में आई 3.5 करोड़ की गिरावट

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की चल-अचल संपत्ति में बीते 5 सालों में गिरावट आई है. उन्होंने मकान निर्माण के लिए 39 लाख का कर्ज भी लिया है. साल 2012 में हुए विधानसभा चुनाव के मुकाबले सीएम की चल व अचल संपत्ति में 3 करोड़ 46 लाख रुपये की कमी आई है.

साल 2012 में पिछले विधानसभा चुनावों के समय वीरभद्र सिंह ने अपनी कुल संपत्ति 34 करोड़ 14 हजार 971 रुपये बताई थी, जोकि अब 31 करोड़ रुपये से भी कम हो गई है.

सीएम वीरभद्र के पास साढ़े 5 लाख और उनकी पत्नी पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह के पास 50 हजार रुपये की नगदी है. वीरभद्र की चल संपत्ति में एक करोड़ 11 लाख तथा अचल संपत्ति में दो करोड़ 35 लाख की कमी आई है.

शुक्रवार को मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने अर्की में अपना नामांकन पत्र दाखिल किया. नामांकन पत्र भरते वक्त उन्होंने निर्वाचन आयोग को अपनी व परिवार की संपत्तियों का ब्योरा हलफनामे के मार्फत सौंपा है. हलफनामे के मुताबिक मुख्यमंत्री के चल संपत्तियों की कीमत 7 करोड़ 15 लाख 60 हजार 753 रुपए है, जबकि उनकी पत्नी प्रतिभा सिंह के पास दो करोड़ 51 लाख 45 हजार 385 रुपये की चल संपत्ति है. साल 2012 के चुनाव में सीएम के नाम 8 करोड़ 26 लाख 95 हजार 513 रुपये तथा पत्नी प्रतिभा सिंह के नाम 4 करोड़ 87 लाख 16 हजार 576 रुपये की चल संपत्ति थी.

हलफनामे में सीएम वीरभद्र सिंह ने बताया है कि उनके नाम 6 करोड़ 53 लाख 88 हजार 129 रुपये और पत्नी प्रतिभा सिंह के नाम 14 करोड़ 31 लाख 21 हजार 344 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है. साल 2012 के हलफनामे में सीएम वीरभद्र सिंह के नाम 18 करोड़ 78 लाख तथा पत्नी प्रतिभा सिंह के नाम 30 लाख रुपये की अचल संपत्ति थी. सनद रहे कि अचल संपत्ति की कीमत बाजार भाव के हिसाब से निकाली जाती है.

सीएम की पत्नी पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह की अचल संपत्ति में इजाफा होने की वजह उनके नाम सराहन में कृषि भूमि का हस्तांतरण होना है. इस संपत्त‍ि की बाजार भाव पर कीमत 12 करोड़ 8 हजार रुपये है. साथ ही 23 करोड़ 21 लाख 344 रुपये की सराहन स्थित गैर कृषि भूमि, भवन के साथ साथ दो करोड़ कीमत का शांति कुंज भवन तथा सराहन के आउट हाउस को भी उनके नाम हस्तांतरित किया गया है.

हलफनामे में सीएम वीरभद्र सिंह ने कहा है कि साल 2017-18 में उनकी निजी आमदनी 31 लाख 12 हजार 380 रुपये तथा अविभाजित परिवार की आमदन 31 लाख 51 हजार एक सौ रुपये तथा कृषि से विशुद्ध 45 लाख 45 हजार 600 रुपये थी. उन्होंने बताया कि पीएनबी रामपुर शाखा में उनकी 24 लाख 97 हजार 508 की रकम सावधि जमा खाते में है. उनकी पत्नी के नाम 56 हजार 888 रुपये इसी शाखा में जमा हैं. उन्होंने हलफनामे में अदालत में अपने खिलाफ लंबित मामलों का भी उल्लेख किया है.

गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह और उनकी पत्नी प्रतिभा सिंह के खि‍लाफ आय से अधिक संपत्ति का भी मामला चल रहा है. आय से अधिक संपत्ति के मामले में सीबीआई ने वीरभद्र सिंह उनकी पत्नी प्रतिभा सिंह और कुछ और लोगों के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी. हालांकि, कोर्ट इस मामले में सभी को जमानत दे चुका है. इस मामले की अगली सुनवाई 31 अक्टूबर को है.

advt
Back to top button