कोयला उत्पादन में फिर बढ़ा एसईसीएल का स्तर, इतने प्रतिशत की हुई बढ़ोत्तरी

अंकित मिंज

बिलासपुर।

कोलइण्डिया लिमिटेड की सबसे बड़ी कोयला उत्पादक सहायक कंपनी साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड ने वर्ष के उत्पादन लक्ष्य की ओर प्रभावशाली वृद्धि दर्ज की है। अप्रैल से दिसंबर 2018 की अवधि के दौरान गत वर्ष के इसी अवधि की तुलना में एसईसीएल ने कोयला उत्पादन और ऑफट में क्रमशः8.89 प्रतिशत और 4.06 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

इसी अवधि के दौरान, एसईसीएल का कोयला उत्पादन 110.751 मिलियन टन और ऑफटेक 115.433 मिलियन टन था। इस 9 महीनों की अवधि में ओवर बर्डन रिमूवल 137 .था। 2018-19 की तीसरी तिमाही में कोयले का उत्पादन 38.517 मिलियन टन है।

एसईसीएल अपने स्थापना के बाद से हर साल खुद अपने कोयला उत्पादन रिकार्ड को पार करता रहा है। कोलइण्डिया की यह अनुषंगी कंपनी कोलइण्डिया के कुल कोयला उत्पादन का लगभग एक चौथाई कोयला उत्पादन करते हुए अपने कोयला उत्पादन लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हर संभव प्रयास करता है।

हाल ही में केन्द्रीय पर्यावरण, वन और परिवर्तन मंत्रालय पर्यावरण (एमओईएफसीसी) ने मानिकपुर खुली कोयला खदान के विस्तार के लिए पर्यावरण मंजूरी दी है। पहले इसमें 3.50 एमपीटीए का इनवायरमेंट क्लियरेंस था जिसे अब बढ़ा कर 4.90 एमपीटीए कर दिया गया है जो कि कोयला उत्पादन के वार्षिक लक्ष्य की प्राप्ति में सहायक सिद्ध होगा।

1
Back to top button