ज़कात में जुटाए 32 लाख रुपए से 800 बच्चों की जमा की फीस

रायपुर। छत्तीसगढ़ ज़कात फाउन्डेशन के जानिब से रविवार को रविन्द्र मंच के कौम के होनहार 800 बच्चों की हौसला अफजाई और कौम के जरूरतमंद बच्चों को स्कॉलरशिप प्रदान की गई। स्कूल के पांचवी कक्षा से लेकर कॉलेज स्तर तक के बच्चों को फीस बाटी गई।स्कालरशिप के लिए स्कूल और कॉलेज स्तर के 1150 बच्चों के आवेदन मिले थे।

इसमें इंजीयनिरिंग, मेडिकल और सी ए की पढ़ाई के लिए भी ज़रूरतमंद बच्चों ने मदद मांगी थी। उन्हें भी मदद की गई। मेडिकल के स्टूडेंट को सबसे ज़्यादा 50 हज़ार रुपए की मदद की गई। ज़कात फाउंडेशन को इस साल 32 लाख रुपए मिले थे, जिसकी सारी रकम बांट दी गई। इसके अलावा शहर के 5 स्कूलों में 4 लाख की कॉपी-किताब और ड्रेस भी बांटी गई।

संस्था पिछले 4 साल से ज़रूरतमंद बच्चों को मदद कर रही है। 2015 में 9 लाख, 2016 में 18 लाख, 2017 में 29 लाख रुपए की मदद की गई थी। संस्था के 200 से ज़्यादा सदस्यों ने ये रकम इकट्ठी की थी।

प्रोग्राम की शुरुआत में जकात फाउन्डेशन के इनाम खा ने पिछले साल के लेख जोखा पेश किया,मोहतरमा निकहत परवीन जी ने उपस्थित लोगो को मुबारकबाद पेश करते हुए उनके बच्चो को अच्छी पढ़ाई के साथ अच्छे वातावरण में रहने की नशिहत की तथा अच्छी तालीम प्राप्त करने लिए प्रेरित किया,मोहतरमा हिना यास्मीन खान जिला अभियोजन अधिकारी। ने अपने अंदाज में बच्चो को उनके अधिकार,उनकी जीवन शैली और तालीम को लेकर अपने विचार रखे, उन्हनो अपनी जीवन के संघर्ष की कहानी सुनाकर बच्चो को हौसला बढ़ाने का काम किया,जनाब इस्फानुर रहीम जोनल एसपी स्पेशल ब्रांच ने भी सभी बच्चो को हौसला बढ़ाने के साथ तालीम को अपनी ज़िन्दगी में कैसे उतार कर अपने मुकाम हासिल करना है, ओर आने वाले समय में आपको सिविल सेवा लिए कैसी तैयारी करना है, उन बिंदु में भी रोशनी डाली.कार्यक्रम के अंत में मोहम्मद ताहिर ने आने वाले सालो की रूपरेखा तय कर ते हुए बताया है कि जिन बच्चो को लगातार 3 साल मदद मिली है आने वाले साल में अब उनको मदद नहीं मिलेगी,ओर जिन बच्चो। के अंक 60% से कम ओर हाजरी 90% से कम हुई तो आने वाले वर्षों संस्था की तरफ से कोई भी सहयोग भी नहीं किया जाएगा .सैय्यद अकील ने कार्यक्रम का सफल संचालन कर पूरे साल होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी मौजूद रहे सभी लोगो को दी।

इस प्रोग्राम में मेहमान खुसूसी राशिद शिबली(असिस्टेंट कमिश्नर)इनकम टैक्स डिपार्टमेंट, ,इरफान उर रहीम साहब(अतरिक्त पुलिस अधीक्षक)स्पेशल ब्रांच बिलासपुर,मोहतरमा निकहत परवीन मैडम,मोहतरमा हिना यास्मीन खान (जिला अभियोजन अधिकारी) जनाब फजल फारूकी साहब,जनाब अकरम सिद्दीकी,इरफान बुखारी साहब,जनाब इनाम भाई,मख़मूर भाई,जनाब जफर अमजद साहब,जनाब गौरी साहब,जनाब हाशिम खान साहब,नाजिम पटेल साहब,वहाब भाई,जावेद बारी भाई,अफजल भाई, सैय्यद गौस भाई,अशफाक अमजद साहब,हकीम अंसारी,रफीक भाई,बाबर आज़ाद साहब और मुस्लिम समाज के काफी गणमान्य नागरिक मौजूद थे.

Back to top button