कलेक्टर ने ‘जन-चौपाल’ में जनता की समस्याओं का किया निराकरण

आलोक मिश्रा:

बलौदाबाजार: कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने आज जिला कार्यालय परिसर में आयोजित साप्ताहिक ‘जन-चैपाल’ में दूर-दराज से आए ग्रामीणों और किसानों से मुलाकात करके उनकी समस्याएं सुनी। उन्होंने बड़े इत्मीनान से एक-एक करके सबसे आवेदन लिए और उनका समाधान किया।

समस्याओं का निदान

समस्याओं की प्रकृति के अनुरूप कुछ समस्याओं का निदान तत्काल संबंधित अधिकारियों की मौजूदगी में कराया गया, वहीं कुछ गंभीर किस्म के मामलों की जांच एवं निराकरण के लिए समय-सीमा दी गई। जिला पंचायत के नये आये सीईओ आशुतोष पाण्डेय एवं अपर कलेक्टर जोगेन्द्र नायक ने भी लोगों की समस्याएं सुनकर उनका निदान किया।

वन अधिकार पत्रक की मांग

जन-चैपाल में कसडोल विकासखण्ड के अंतर्गत बार नवापारा अभ्यारण्य के गांव गजराडीह के ग्रामीणों ने वन अधिकार पत्रक की मांग की। उन्होंने कहा कि वन विकास निगम द्वारा दो साल पहले सर्वेक्षण किया जा चुका है। आस-पास के गांव वालों को अधिकार पत्र मिल भी चुका है।

कलेक्टर ने वन विकास निगम के अधिकारियों को बुलाकर इनका निराकरण कराने के निर्देश वन विभाग के अधिकारियों को दिए। पनगांव के ग्रामीणों ने नहर पर दो व्यक्तियों द्वारा अवैध कब्जा करके मकान बनाने का मामला उठाया।

उन्होंने कहा कि साइडेन्ट नहर पर कब्जा कर लेने से गांव की लगभग 4 सौ एकड़ खेत प्यासे रह जाते हैं। उधर पानी का प्रवाह बंद हो गया है। कलेक्टर ने तहसीलदार को उनका आवेदन भेजते हुए अवैध कब्जा हटाने के निर्देश दिए।

बुजुर्गों की देखरेख मामले में कार्रवाई के निर्देश

बिलाईगढ़ विकासखण्ड के गांव पवनी के 75 साल के बुजुर्ग श्यामलाल साहू एवं 70 साल की पत्नी लक्ष्मीन को उनके पुत्र द्वारा देख-रेख नहीं किये जाने का मामला प्रकाश में आने पर कलेक्टर ने एसडीएम बिलाईगढ़ को कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि माता-पिता भरण पोषण अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके जरूरी कार्रवाई किया जाए।

कोनारी में संचालित राशन दुकान में गड़बड़ी की जानकारी देते हुए दुकान आवंटन निरस्त करके समूह पर कार्रवाई की मांग वहां के ग्रामीणों ने की। उन्होंने कहा कि जय मां शीतला समूह के अध्यक्ष के नाम पर राशन दुकान आवंटित किया गया है, लेकिन कोई निजी किराना कारोबारी इसका संचालन करता है।

राशन दुकान निजी स्थान पर संचालित होने के साथ ही कभी-कभार खुलता है। कलेक्टर ने एसडीओ राजस्व को इसकी जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने को कहा है। करही बाजार में संचालित अनुसूचित जाति कन्या छात्रावास का पिछले दो साल का किराया भुगतान नहीं होने पर मकान मालिक ने आवेदन दिया।

कलेक्टर ने सहायक आयुक्त आदिवासी विकास को उनका आवेदन भेजते हुए जल्द किराया भुगतान करने के निर्देश दिए। बलौदाबाजार के ग्राम खैरा में कोटवार नहीं होने के बावजूद एक व्यक्ति द्वारा कोटवारी जमीन पर अधिकार करके खेती करने की शिकायत की गई। कलेक्टर ने तहसीलदार बलौदाबाजार को मामले की जांच कर निपटाने को कहा है।

बिलाईगढ़ विकासखण्ड के ग्राम देवरबोड़ में मनरेगा योजना के अंतर्गत वित्तिय वर्ष 2018-2019 में गड़बड़ी की शिकायत ग्रामीणों ने की। उनका आरोप है कि काम नहीं करने वाले मजदूरों का नाम भी मस्टर रोल में दर्ज पाया गया। कलेक्टर ने जनपद पंचायत बिलाईगढ़ के सीईओ को मामले की जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने कहा है।

Tags
Back to top button