कलेक्टर ने जिला अस्पताल का आकस्मिक निरीक्षण, स्वच्छता बरतने के दिए निर्देश

ड्यूटी में विलंब से पहुंचने वाले कर्मचारियों व सहायकों को कारण बताओ नोटिस

धमतरी। कलेक्टर रजत बंसल ने आज सुबह 9.30 बजे जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने सभी वार्डों का निरीक्षण कर हरहाल में स्वच्छता बरतने और प्राथमिकता के आधार मरीजों का अविलम्ब उपचार करने के निर्देश भी दिए।

निरीक्षण के दौरान ड्यूटी पर विलम्ब से आने वाले कर्मचारियों व सहायकों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के भी निर्देश दिए। इसी तरह रेडियोलॉजिस्ट की कमी के चलते तकनीकी कार्य प्रभावित होने को ध्यान में रखते हुए रिक्त पदों की जल्द पूर्ति करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए। उनके साथ निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत के सी.ई.ओ. विजय दयाराम के. भी मौजूद थे।

कलेक्टर बंसल ने आज सुबह 9.30 बजे जिला अस्पताल परिसर पहुंचकर सबसे पहले मरीज पंजीयन काउण्टर का निरीक्षण किया। इसके बाद वे ड्रेसिंग रूम, प्रयोगशाला, ब्लड बैंक का भी मौका मुआयना किया। इस दौरान कतिपय वार्डों में समय पर नहीं पहुंचने वाले चिकित्सकों, स्टाफ नर्स और कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डी.के. तुर्रे को दिए।

इसके बाद वे महिला एवं पुरूष वार्ड में जाकर मरीजों एवं उनके परिजनों से भेंटकर उनका हालचाल जाना। यहां पर ड्यूटी चार्ट का भी निरीक्षण कर स्टाफ को आपातकालीन चिकित्सा सेवाओं के लिए हमेशा प्रभारी चिकित्सक की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए उन्होंने निर्देशित किया।

इसके बाद उन्होंने किचन शेड में जाकर मरीजों और उनके परिजनों के लिए बनने वाले भोजन और तिथिवार मीनू के बारे में भी जानकारी ली। तदुपरांत वे ऑपरेशन थिएटर, आयुष शाखा (फिजियोथेरेपी), एक्स-रे एवं सोनाग्राफी कक्ष सहित गहन शिशु चिकित्सा इकाई, पोषण पुनर्वास केन्द्र, नेत्र चिकित्सा कक्ष, पेइंग वार्ड में जाकर मुआयना करने के साथ-साथ वहां पर रखे उपकरणों, संबंधित पंजियों और अभिलेखों का भी निरीक्षण कर अधूरी प्रविष्टियों को पूर्ण करने के लिए निर्देशित किया।

इसके अलावा कलेक्टर ने सम्पूर्ण परिसर का उन्होंने बारीकी से निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने पानी निकासी के लिए समुचित व्यवस्था नहीं होने पर नाराजगी जाहिर करते हुए जल्द ही जीवनदीप समिति और रेडक्रॉस सोसायटी की बैठक बुलाने के लिए अस्पताल अधीक्षक को निर्देशित किया। इस अवसर पर जिला अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक एवं अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

Back to top button