कलेक्टर ने किया जिला चिकित्सालय का आकस्मिक निरीक्षण

जागेश्वर सिन्हा:

बालोद: कलेक्टर किरण कौशल पिछले शुक्रवार शासकीय जिला चिकित्सालय का आकस्मिक निरीक्षण कर जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान दो चिकित्सक और छह कर्मचारी अनुपस्थित मिले।

कलेक्टर ने अनुपस्थित चिकित्सक डॉ. ओ.पी.गौर मेडिकल ऑफिसर और डॉ. के.के.सिंघा तथा स्वास्थ्य कर्मचारी जी.सिन्हा, कु.अंजलि साहू, कु.लक्ष्मी ठाकुर, जी.के.जोषी, कु.पी.नायडू, और कु. नीलम को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने उपस्थित चिकित्सकों से कहा कि वे मरीजों का संवेदनषीलता के साथ बेहतर उपचार करें।

कलेक्टर ने अस्पताल में ब्लड बैंक, ओपीडी सहित विभिन्न वार्डों का निरीक्षण कर जायजा लिया। उन्होंने मरीजों से भेंट की, उनका हालचाल जाना और अस्पताल से मिलने वाली दवाईयों आदि के संबंध में जानकारी ली।

कलेक्टर ने अस्पताल की साफ-सफाई पर नाराजगी व्यक्त की और अस्पताल तथा परिसर को पूरी तरह स्वच्छ रखने के निर्देष दिए। कलेक्टर ने अस्पताल में उपलब्ध संसाधनो का उपयोग नहीं किए जाने पर असंतोष व्यक्त की और कहा कि युक्तियुक्तकरण कर अस्पताल में उपलब्ध संसाधनों का उपयोग सुनिष्चित करें।

कलेक्टर ने जिला चिकित्सालय का निरीक्षण करने के पष्चात संयुक्त जिला कार्यालय के सभाकक्ष में जीवनदीप समिति की कार्यकारणी समिति की बैठक ली। बैठक में जिला चिकित्सालय के ब्लड बैंक में दो लैब टेक्नेषियन रखने का निर्णय लिया गया।

जीवन दीप समिति द्वारा ब्लड बैंक में दो स्टाफ नर्स की ड्यूटी लगाए जाने चर्चा की गई। बैठक में जीवन दीप समिति में उपलब्ध आय-व्यय तथा जिला अस्पताल में आवष्यक दवाईयों के क्रय, बिजली, पानी एवं सेनेट्री आदि पर चर्चा की गई।

बैठक में सिविल सर्जन डॉ. एस.पी.केसरवानी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक डॉ.रीनालक्ष्मी सहित अन्य चिकित्सक, जीवनदीप समिति की कार्यकारणी समिति के सदस्य डॉ. प्रदीप जैन सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

1
Back to top button