टापर्स से मिले कलेक्टर : दुर्ग का नाम रोशन किया, अब पूरे देश में नाम रोशन करे

कहा उच्च शिक्षा एवं प्रतिस्पर्धा में अंग्रेजी की महती अहमियत

दुर्ग : हाईस्कूल में प्रावीण्य सूची में स्थान बनाने वाले टापर्स आज कलेक्टर अंकित आनंद से मिले। कलेक्टर ने उन्हें उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दी। कलेक्टर ने कहा कि आप लोगों ने इतने अच्छे नंबर लाकर हमारे जिले का नाम रोशन किया है। यह तो पहली सीढ़ी है इतनी मेहनत आगे भी करे, जिससे पूरा देश आप पर गर्व करे। यह तब हो सकेगा जब समय के उचित प्रबंधन के साथ ही पढ़ाई के लिए कारगर रणनीति बनाएंगे।

कलेक्टर ने प्रावीण्य सूची में शामिल बच्चों से कहा कि इंटरनेट ने सब कुछ बदल दिया है। अब हमारे पास अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए पूरा अंतरराष्ट्रीय मंच है। आप कुछ अच्छा करेंगे, लीक से हटकर करेंगे तो इसकी गूंज पूरे विश्व में सुनाई पड़ेगी। इसके लिए अच्छी अंग्रेजी आवश्यक है। अंग्रेजी में पकड़ मजबूत बनाइये और इसका नियमित अभ्यास कीजिए।

कलेक्टर ने कहा कि इंटरनेट में सूचनाओं का भंडार है और कई ऐसी वेबसाइट है जो हमें अमूल्य जानकारी उपलब्ध कराती है और हमारी जिज्ञासाओं का समाधान करती है। लेकिन यह हम पर निर्भर करता है कि हम इसका किस रूप में उपयोग करें।

इंटरनेट का उपयोग विद्यार्थियों को मनोरंजन के लिए नहीं करना चाहिए अपितु ज्ञानवर्धन के लिए करना चाहिए और वो भी तब जब ऐसा लगे कि कोर्स की किताबों की सामग्री पर्याप्त नहीं है। उन्होंने कहा कि गर्मी की छुट्टियों में आपको पर्याप्त समय मिलेगा, इस समय यदि आप अगली कक्षाओं की पुस्तकें पढ़ेंगे तो बेस बनने में आसानी होगी। इससे जब टीचर आपको पढ़ाएंगे तो आसानी से चीजें समझ में आएंगी।

अंकित आनंद, कलेक्टर ने कहा कि अक्सर बच्चे पढ़ाई तो करते हैं लेकिन सामान्य ज्ञान पर ध्यान नहीं देते। धीरे-धीरे वो अपने कोर्स की सारी बातें तो जानते हैं लेकिन उनका सामान्य ज्ञान बेहद कमजोर होता जाता है। फिर प्रतियोगिता परीक्षा में इसके लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है।

यदि अभी से इसे प्रैक्टिस में ले लेंगे तो उस समय बहुत सहज महसूस करेंगे। उन्होंने कहा कि नियमित रूप से अखबार पढ़े, समाचार सुनें और अपने आस-पास होने वाली गतिविधि के प्रति सजग रहें। खूब पढ़ाई करें, इससे आपके लिए सफलता का रास्ता आसान होता जाएगा।

कलेक्टर ने मेधावी छात्र-छात्राओं का किया सम्मान

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित 10वीं व 12वीं की परीक्षा में जिले के छात्र-छात्राओं ने प्रावीण्य सूची में स्थान बनाने में सफल हुई। कलेक्टर अंकित आनंद ने जिले के मेधावी छात्र-छात्राओं का आज अपने कक्ष में सम्मान किया।

कलेक्टर ने अव्वल, आये प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को मोबाईल फोन पेड भेंट कर सम्मानित किया। सम्मानित छात्र-छात्राओं में से 12वीं कक्षा की छात्रा मनीषा कुमारी शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भिलाई ने 95.40 प्रतिशत प्राप्त कर राज्यस्तर पर पांचवां स्थान प्राप्त किया है।

इसी प्रकार शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तितुरडीह के छात्र लकी देवांगन ने 95.20 प्रतिशत अंक प्राप्त कर राज्यस्तर पर 6वां स्थान तथा शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गोढ़ी की छात्रा कुमारी नम्रता ने 94.80 प्रतिशत अंक प्राप्त कर 8वां स्थान प्राप्त किया है।

इसी प्रकार 10वीं कक्षा में महावीर जैन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दुर्ग से कुमारी साक्षी मिश्रा ने 97.17 प्रतिशत अंक प्राप्त कर राज्य में 7वां स्थान प्राप्त किया। सरस्वती शिशु मंदिर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कुम्हारी की छात्रा कुमारी मोनिका यादव ने 96.67 प्रतिशत अंक प्राप्त कर राज्य में 10वां स्थान प्राप्त किया है।

कलेक्टर अंकित आनंद ने इन सभी छात्र-छात्राओं से भेंट कर उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। उन्होंने विद्यार्थियों को बताया कि इंजीनियरिंग पढ़ाई, मेडिकल अथवा वाणिज्य विषय जैसे अन्य किसी भी प्रकार की पढ़ाई के लिए भविष्य में अंग्रेजी का ज्ञान बहुत ज्यादा जरूरी है।

उन्होंने बच्चों को बताया कि समय का सदुपयोग करें। यहीं समय है अपने भविष्य को संवारने का। उन्होंने कहा कि अपनी आगे की पढ़ाई के साथ-साथ सामान्य ज्ञान की जानकारी होना जरूरी है। सामान्य ज्ञान के लिए पत्रिकाओं के साथ समाचार पत्र भी पढ़ना जरूरी है।

कलेक्टर द्वारा बच्चों से उनके पढ़ाई के तरीके के बारे में पूछने पर उन्होंनेे बताया कि 6-7 घंटे तक पढ़ाई करते थे। इसके साथ ही समाचार पत्रों का पठन भी किया करते थे। कलेक्टर ने बच्चों से कहा कि आगे पढ़ाई करने में किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो समस्या का निराकरण किए जाने का भरोसा दिया। कलेक्टर ने बच्चों से कहा कि आपने दुर्ग जिले का नाम रोशन किया है।

इसका जिले को हमेश गर्व रहेगा। इसके अलावा उन्होंने कहा कि अब आप लोगों की प्रतियोगिता दुर्ग से नहीं बल्कि पूरे विश्व से होगा। सफलता एवं ज्ञान हासिल करने के लिए इंटरनेट का उपयोग करने कहा। उन्होंने यह भी बताया मेरिट में आये छात्र-छात्राओं के लिए जिले में ग्रीष्मकालीन क्लासेस चलायी जा रही जो कि प्रतियोगिता परीक्षा में काम आएगी। इस अवसर का लाभ सभी बच्चों को उठाना चाहिए। समय का सदुपयोग कर मंजिल प्राप्त करने कहा।

Back to top button