छत्तीसगढ़

कलेक्टर ने रैली को सफल बनाने जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की ली विशेष बैठक

ज़िले के राम वन गमन पथ पर 16 दिसंबर को बाइक रैली और पर्यटन रथ यात्रा आयोजित होगी

मिलेश महीलांगे

  • बांसपानी से लोमश ऋषि आश्रम नवापारा तक 148 किलोमीटर विराट बाइक रैली और पर्यटन रथ यात्रा निकाली जाएगी

धमतरी 07 दिसम्बर 2020: प्रदेश में भगवान राम वनवास के दौरान जिन रास्तों से गुजरे उसे पर्यटन की दृष्टिकोण से पर्यटन मंडल द्वारा राम वन गमन पथ के रूप में विकसित करने की योजना है। यह कार्य टूरिज्म सर्किट विकास योजना के तहत किया जाना है। इसके फलस्वरूप प्रदेश में 14 से 17 दिसंबर तक राम वन गमन पथ पर विराट बाइक रैली और पर्यटन रथ यात्रा निकाली जाएगी। इस बाइक रैली और पर्यटन रथ यात्रा को ज़िले में सफल बनाने के लिए कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने आज एक अहम बैठक बुलाई।

कलेक्टोरेट सभाकक्ष में सुबह 11 बजे से आहूत इस बैठक में विधायक सिहावा विधायक डाॅ.लक्ष्मी ध्रुव और धमतरी विधायक रंजना साहू के साथ महापौर नगरपालिक निगम धमतरी विजय देवांगन, जिला पंचायत उपाध्यक्ष निशु चंद्राकर, पूर्व विधायक धमतरी गुरुमुख सिंह होरा, हर्षद मेहता सहित पुलिस अधीक्षक बी.पी. राजभानु, वन मंडलाधिकारी अमिताभ बाजपेई, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत नम्रता गांधी सहित जिला स्तरीय अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

बाइक रैली

इस मौके पर कलेक्टर ने बताया कि प्रदेश में उत्तर से कोरिया जिले के सीतामढ़ी हरचैका और दक्षिण में सुकमा के रामा राम से बाइक रैली और पर्यटन रथ यात्रा 14 दिसंबर को निकाली जाएगी। धमतरी जिले में तीसरे दिन दक्षिण की तरफ कांकेर से आ रही बाइक रैली और पर्यटन रथ यात्रा 16 दिसंबर को सुबह के वक्त पहुंचेगी।

धमतरी के नगरी में बांसपानी से रैली का आगाज होगा। यहां पर्यटन रथ को धमतरी के बाइकर्स को सौंप कांकेर के बाइकर्स रवाना हो जाएंगे। यहां से 148 किलोमीटर तक राम वन गमन पथ में टुकड़े-टुकड़े में बाइकर्स का दल रैली में हिस्सा लेगा। उन्होंने यह भी बताया कि हर 30 से 35 किलोमीटर के पैच में बाइकर्स समूह बदले जाएंगे, ताकि उनको सुविधा हो सके। यदि कोई शुरवात से हिस्सा लेना चाहते हैं, वे भी जुड़ सकते हैं। प्रयास रहेगा कि 100 बाइकर्स शुरू से आखरी तक बांसपानी से लोमश ऋषि आश्रम नवापारा तक चले। इसमें कुछ स्वयं सेवी, जिले के अधिकारी तथा अन्य शामिल हैं। इस दौरान विभिन्न स्थल जहां से रथ और रैली गुजरेगी उन गांव का चिन्हांकन कर राम पाठ के बाद गांव की मिट्टी रथ में रखी जाएगी।

बैठक में कलेक्टर ने बताया

बैठक में कलेक्टर ने बताया कि जिले में राम वन गमन पथ जहां से बाइक रैली प्रस्तावित है, उसमें बांसपानी से बिरगुड़ी, सेमरा, सिहावा से नगरी तक शामिल है। यहां बस स्टैंड में बाइकर्स रैली और पर्यटन रथ के स्वागत के बाद बाइकर्स समूह बदला जाएगा। इसके बाद दुगली से केरेगांव दूसरा बाइकर्स समूह, केरेगांव से कुकरेल, भोयना, रुद्री और फिर भोयना तक तीसरा बाइकर्स समूह चलेगा। भोयना से बाइकर्स समूह फिर बदले जाएंगे जो कि आगे सलोनी, छुही, साल्हेभाट, पाहंदा, सोनेवारा, राजपुर, मोहंदी तक चलेगा।

यहां से बाइकर्स का समूह राम वन गमन पथ पर आगे भरदा, परसवानी, मधुवन, बड़े करेली, भेण्ड्री, हसदा से होते हुए रैली के अंतिम पड़ाव नवापारा के लोमश ऋषि आश्रम तक पहुंचेगा। यहां पर्यटन रथ को जिले के बाइकर्स द्वारा गरियाबंद जिले के बाइकर्स समूह को सौंपा जाएगा। इस पूरे बाइक रैली में विभिन्न पॉइंट्स पर मोबाइल टॉयलेट, पेयजल व्यवस्था के अलावा मेडिकल दल भी रहेगा। यह भी बताया गया कि जिले में राम वन गमन पथ में प्रस्तावित बाइक रैली के लिए लंच व्यवस्था रुद्री स्थित रुदेश्वर धाम के निकट स्टेडियम में की जाएगी। इसके अलावा रांकाडीह स्थित मधुबन में थोड़ी देर रैली को रोका जाएगा, यहां चाय-नाश्ते के बाद बाइकर्स रैली आगे बढ़ेगी।

कलेक्टर ने बैठक में कहा

कलेक्टर ने बैठक में कहा कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सभी रैली में हिस्सा लेने वाले बाइकर्स और अन्य मास्क जरूर लगाएं और हेलमेट भी अनिवार्य रूप से पहनें। उन्होंने बताया कि रैली में हिस्सा लेने के इच्छुक बाइकर्स सम्बन्धित ग्राम पंचायत के सचिव के जरिए पंजीयन करा सकते हैं। ध्यान देने वाली बात यह है कि कोई भी बाइकर 18 साल से कम उम्र का नहीं होना चाहिए। उन्होंने यह भी बताया कि यह सुनिश्चित किया जाए कि कोई भी शराब सेवन कर बाइक रैली में हिस्सा ना ले।

ज्ञात हो कि पर्यटन रथ में मशाल, प्रतीक चिन्ह और विभिन्न गांव में राम पाठ के बाद संकलित मिट्टी को रखा जायेगा। इस मिट्टी को संकलित कर पर्यटन रथ के जरिए राजधानी रायपुर के चंद्रखूरी में माता कौशल्या के मंदिर तक लाया जाएगा, जिससे वहां वृक्षारोपण किया जाएगा। बैठक में कलेक्टर ने बताया कि पर्यटन विभाग की ओर से प्रस्तावित बाइकर्स रैली के लिए फ्लेक्स, बैक ड्रॉप, झंडा का प्रारूप भेजा जायेगा। इसके साथ ही बाइक में लगने वाले झंडे का प्रारूप भी रैली की एकरूपता के लिए भेजा जाएगा। आयोजन को जिले में सफल बनाने बैठक में उपस्थित जनप्रतिनिधियों ने अपने बहुमूल्य सुझाव भी कलेक्टर को दिए।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button