छत्तीसगढ़

कलेक्टर ने धान की सामान्य से ज्यादा आवक पर निगरानी के दिए निर्देश

सत्यापित रकबे के आधार पर ही, हो धान खरीदी : कलेक्टर

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा

  • समय सीमा की बैठक सम्पन्न

बिलासपुर 12 जनवरी 2021। कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर ने आज समय सीमा की बैठक में धान खरीदी की समीक्षा करते हुए कहा कि धान की सामान्य से ज्यादा आवक पर निगरानी और माॅनिटरिंग लगातार करते रहें। उन्होंने अंतर्राज्यीय परिवहन एवं कौचियों पर नजर रखने कहा। कलेक्टर ने गिरदावरी में उल्लेख रकबे के आधार पर धान की खरीदी करने कहा। उन्होंने बारदाने की उपलब्धता की जानकारी ली। इस पर खाद्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि समितियों में पर्याप्त मात्रा में बारदाने उपलब्ध है।

अवैध धान खरीदी एवं परिवहन

मंथन सभाकक्ष में आयोजित बैठक में कलेक्टर ने अवैध धान खरीदी एवं परिवहन पर निगरानी करने के निर्देश सहकारिता विभाग, सहकारी बैंक के अधिकारियों को दिए। उन्होंने बारदाने की उपलब्धता के संबंध में लगातार निगरानी करने कहा। धान खरीदी के साथ-साथ उठाव की भी समीक्षा की। खाद्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कुल धान खरीदी का समितियों से 46 प्रतिशत धान का उठाव मिलर्स द्वारा कर लिया गया है। कलेक्टर ने निर्देश दिया कि मिलर्स सीधे समिति से धान का उठाव करेंगे। उन्होंने बताया कि अभी तक जिले में 35 लाख 50 हजार क्विंटल धान की खरीदी की जा चुकी है। Collector instructed to monitor paddy more than usual

कलेक्टर ने समय सीमा के प्रकरणों को गंभीरता से लेते हुए जल्द निराकृत करने के निर्देश दिए। लोक सेवा गारंटी के तहत प्राप्त आवेदनों का निपटारा गंभीरता से करने कहा । कोविड वैक्सीनेशन की समीक्षा पर मुख्यचिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि जल्द ही वैक्सीन जिले को प्राप्त हो जाएगी। इसके लिए आवश्यक तैयारी करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। साथ ही बैठक मंे प्रधानमंत्री आवास योजना, भूईयां पोर्टल में की जाने वाली प्रवृष्टि, किसान सम्मान निधि योजना, चबूतरे निर्माण की प्रगति सहित अन्य बिंदुओं की समीक्षा की गई।

बैठक में एडीएम बी.एस. उइके, वन मण्डलाधिकारी कुमार निशांत, अपर कलेक्टर नूपूर राशि पन्ना, नगर निगम के कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय, सभी एसडीएम, तहसीलदार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

Collector instructed to monitor paddy more than usual

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button