छत्तीसगढ़

कलेक्टर ने विद्यार्थियों का निरंतर स्वास्थ्य परीक्षण कराने के दिए निर्देश

हिमांशु सिंह ठाकुर :- ब्यूरो कवर्धा

कवर्धा :

कबीरधाम जिले में आदिम जाति विकास विभाग द्वारा संचालित आश्रम-छात्रावासों में अध्ययनरत विद्यार्थियों की सतत काउंसलिंग की जाएगी। पढ़ाई में उत्कृष्ठ और कमजोर विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा और कमजोर विद्यार्थियों को विशेष ध्यान में रखते हुए उनका विशेष अध्यापन कार्य किया जाएगा।

इसके अलावा उत्कृष्ट विद्यार्थियों की विशेष कोचिंग व्यवस्था कर उन्हें तकनीकी शिक्षा इंजीनियरिंग, मेडिकल सहित अन्य क्षेत्रों में अवसर प्रदान करने के लिए विशेष प्रयास भी किए जाएंगे।

कलेक्टर श्री अवनीश कुमार शरण ने आज यहां कलेक्ट्रोरेट सभा कक्ष में आदिमजाति विकास विभाग के अधिकारियों और अधीक्षकों की बैठक लेकर आश्रम-छात्रावास में उपलब्ध संसाधनों की समीक्षा करते हुए आश्रम-छात्रावासों में संसाधानों की कमियों को दूर करने के लिए सहायक आयुक्त को विशेष -दिशा निर्देश दिए।

कलेक्टर अवनीश कुमार ने कहा कि आश्रम-छात्रावासों में अध्ययनरत विद्यार्थियों को बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के लिए संस्थान में भोजन व्यवस्था, नियमित स्वास्थ्य परीक्षण और छात्रवृत्ति सुविधाए उपलब्ध है। इससे भी महत्वपूर्ण संस्थानों में बेहतर शिक्षा उपलब्ध कराना प्राथमिकता में शामिल है।

कलेक्टर ने तरेगांव जंगल में संचालित एकलव्य आवासीय विद्यालय की जानकारी लेते समस्त अधीक्षकों को निर्देशित करते हुए कहा कि वे अपने संस्थानों में अध्ययनरत विद्यार्थियों को सतत रूप से काउंसलिंग करें।

पढ़ाई के क्षेत्रों में बेहतर और कमजेर विद्यार्थियों का चयन कर उन्हें विशेष रूप से पढ़ाई कार्य कराने में मदद करें। आवश्कता पढ़ने पर विशेष कोचिंग की भी व्यवस्था करें। कलेक्टर ने विभाग द्वारा संचालित विशेष कोचिंग व्यवस्था की भी जानकारी ली।

उन्हांने कहा कि विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ-साथ उनके स्वास्थ्य पर भी विशेष ध्यान दें। विद्यार्थियों हो मौसमी बीमारियों और सर्दी-जुकाम होने की स्थिति में तत्काल उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराए। कन्या आश्रम-छात्रावासों के लिए भी महिला चिकित्सकों की उपस्थिति में विशेष स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित कराने के लिए निर्देशित किया है।

कलेक्टर ने बैठक में आश्रम-छात्रावासों भवनों की जानकारी लेते हुए बड़े मरम्मत योग्य कार्यों की प्राकलन तैयार करने के लिए अधिकारी को निर्देशित किया है। उन्होंने अधीक्षकों को मुख्यालय में उपस्थित करने के लिए भी कड़े निर्देश दिए है। बैठक में समस्त आश्रम-छात्रावास अधीक्षक उपस्थित थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
कलेक्टर ने विद्यार्थियों का निरंतर स्वास्थ्य परीक्षण कराने के दिए निर्देश
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags