कलेक्टर ने ली जनदर्शन और समय-सीमा की बैठक,कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं गौरेला और पेंड्रा जनपद पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी को शो कॉज नोटिस जारी

कलेक्टर ने ली जनदर्शन और समय-सीमा की बैठक साथ ही कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं गौरेला और पेंड्रा जनपद पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी को शो कॉज नोटिस जारी

संवाददाता :- सुमित जालान

गौरेला पेंड्रा मरवाही : जिले की कलेक्टर नम्रता गांधी ने आज कलेक्ट्रेट परिसर के अरपा सभाकक्ष में जनदर्शन और समय-सीमा की बैठक ली । बैठक में कलेक्टर द्वारा बताया गया कि जिले में आयुष्मान भारत योजना के तहत 1 मार्च 31 मार्च तक आयुष्मान कार्ड बनाए जाएंगे और लर्निंग लायसेंस के लिए 6 से 15 मार्च तक शिविर का आयोजन किया जाएगा। इसके साथ ही बैठक में कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी के साथ-साथ गौरेला और पेंड्रा जनपद पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को शाश्कीय कार्य मे लापरवाही बरतने के कारण शो काज नोटिस जारी किया गया है। बैठक में कलेक्टर ने आने वाले गर्मी के मौसम को ध्यान में रखते हुए कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी को जिले में आवश्यकतानुसार विभिन्न जगहों पर सर्वे करते हुए पानी की समस्या के लिए आवश्यक उपाय किए जाने के निर्देश दिए हैं।

कलेक्टर ने बैठक में

जनदर्शन कार्यक्रम में जिले के विभिन्न क्षेत्रों से आए लोगों ने अपनी समस्याएं कलेक्टर नम्रता गांधी के सामने रखी। इसके पश्चात समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर ने विभिन्न महत्वपूर्ण बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की। कलेक्टर ने बैठक में वन अधिकार पत्रों की विकासखंडवार अद्यतन स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने मरवाही में वन अधिकार पत्रों के कार्य पूरी जिम्मेदारी से करने के निर्देश दिए हैं इसके साथ ही उन्होंने ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत और एसडीएम स्तर पर भी वन अधिकार पत्र के लिए सुव्यवस्थित ढंग से रजिस्टर संधारित करने के निर्देश दिए हैं।

कलेक्टर ने बैठक में नजूल क्षेत्र घोषित करने की प्रक्रिया, लोक सेवा गारंटी के रिपोर्ट, लवली हुड कॉलेज निर्माण की प्रक्रिया, मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान के प्रकरण, किसान सम्मान निधि की प्रगति स्थिति, किसान क्रेडिट कार्ड के लक्ष्य, अनुकंपा नियुक्ति के प्रकरणों की स्थिति इत्यादि विभिन्न महत्वपूर्ण बिंदुओं की जानकारी ली।

धान के स्थान पर अन्य फसल लगाए जाने के लिए जमीनी स्तर पर किसानों से चर्चा

बैठक में कलेक्टर ने जिले में धान के स्थान पर अन्य फसल लगाए जाने के लिए जमीनी स्तर पर किसानों से चर्चा करते हुए अनुविभागीय दंडाधिकारीओं को इनके विशेष निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही कलेक्टर ने सड़क सुरक्षा अभियान के तहत जिले में रेडियम पट्टी, गति अवरोधक, साइन बोर्ड, नो पार्किंग स्थल, बस स्टॉप के लिए स्थल इत्यादि चिन्हअंकित करने के कार्य जल्द से जल्द किए जाने के निर्देश दिए हैं। बैठक में स्वास्थ्य विभाग द्वारा बताया गया कि अब जिले के जिला चिकित्सालय में एक मार्च से आमजन भी कोविड वैक्सीनेशन करा सकेंगे।

वैक्सीनेशन कराने के लिए ऐसे व्यक्ति जो 1 जनवरी 2022 तक 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले हैं और 45-59 वर्ष की उम्र वाले ऐसे व्यक्ति जो कैंसर, डायबिटीज, हाइपरटेंशन, किडनी फेलियर, ह्रदय रोग इत्यादि जैसे को-मोरबिडिटी ( गंभीर बीमारी) से पीड़ित है वे वैक्सीनेशन करा सकते हैं। को-मोरबिडिटी ( गंभीर बीमारी) के लिए 45-59 वर्ष वाले व्यक्तियों को रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर से प्रमाणित प्रमाण पत्र भी प्रस्तुत करना होगा। वैक्सीनेशन कराने के लिए आमजन कोविन एप मैं जाकर सेल्फ रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं या जिले के जनपद पंचायत और नगर पंचायत कार्यालयों में जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके अलावा जिन स्थलों पर वैक्सीनेशन कराया जा रहा है वहां अपने आवश्यक दस्तावेजों के साथ सीधे उपस्थित होकर भी रजिस्ट्रेशन कराए जा सकते हैं।

रजिस्ट्रेशन

रजिस्ट्रेशन कराने के लिए 60 वर्ष से अधिक उम्र वाले व्यक्ति वैक्सीनेशन स्थल पर अपने फोटो युक्त पहचान प्रमाण पत्र के साथ सीधे रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं इसके अलावा अन्य विकल्पों से भी रजिस्ट्रेशन कराए जा सकते है। 45-59 वर्ष वाले व्यक्तियों को वैक्सीनेशन कराने के लिए अपने फोटो युक्त पहचान प्रमाण पत्र के साथ-साथ रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर से प्रमाणित कोमोरबिडिटी ( गंभीर बीमारी) का प्रमाण पत्र भी प्रस्तुत करना होगा।

पहचान प्रमाण पत्र के रूप में आधार कार्ड, मतदाता कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, पेंशन कार्ड ( फोटो सहित ), एनपीआर स्मार्ट कार्ड पहचान प्रमाण पत्र जिनमें नाम और जन्मतिथि का स्पष्ट उल्लेख हो लाना अनिवार्य होगा। इसके साथ ही कलेक्टर ने जिले में कराए जा रहे कोविड वैक्सीनेशन के निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए जनपद पंचायत और नगर पंचायत के अधिकारियों को ग्राम पंचायतवार किन-किन लोगों का वैक्सीनेशन कराया जा रहा है इसकी जानकारी दिनांकवार बनाकर सुव्यवस्थित ढंग से योजनाबद्ध तरीके से किए जाने के निर्देश दिए है इसके साथ ही गांवों में जमीनी स्तर पर भी लोगों को इसकी जानकारियां उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

आयुष्मान भारत योजना

इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा बताया गया कि जिले में 1 मार्च से 31 मार्च तक आयुष्मान भारत योजना के तहत आयुष्मान कार्ड बनाए जा रहे हैं। इसके लिए आधार कार्ड, राशन कार्ड, फोटो इत्यादि दस्तावेज के साथ जिले के जिला चिकित्सालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र या चॉइस सेंटर में भी नि:शुल्क आयुष्मान कार्ड बनवाए जा सकते हैं। बैठक में परिवहन विभाग द्वारा बताया गया कि जन सुविधा को ध्यान में रखते हुए आगामी 6 मार्च से 15 मार्च 2021 तक गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले में लर्निंग लायसेंस जारी करने के लिए शिविर का आयोजन किया जा रहा है। शिविर के सफल संचालन के लिए क्षेत्रिय परिवहन बिलासपुर मय स्टाफ तथा आवश्यक उपकरण के साथ उपस्थित रहकर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करेंगे।

गौरतलब है कि विगत 18 जनवरी से 17 फरवरी 2021 तक सड़क सुरक्षा माह अंतर्गत एक हजार 310 लर्निंग लायसेंस के आवेदन गौरेला थाना अंतर्गत और 2 हजार 175 आवेदन मरवाही क्षेत्र अंतर्गत स्वीकार किए गए हैं। कलेक्टर ने बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी को स्कूली बच्चों के लिए आय,जाति, निवास के प्रमाण पत्र बनाए जाने के लिए बच्चों की सूची तैयार करते हुए स्कूलों में ही उनके फार्म भरवाए जाने के निर्देश दिए हैं इसके लिए उन्होंने आवश्यकतानुसार ब्लॉक लेवल पर शिक्षकों के लिए प्रशिक्षण भी उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही उन्होंने कृषि विभाग के उपसंचालक को गौठानों में कितने वर्मी बेड खाली हैं, कितने वर्मी बन चुके हैं, कितने का विक्रय हुआ है, केंचुए की स्थिति इत्यादि की जानकारी प्रतिदिन उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए हैं।

नोडल अधिकारियों को

बैठक में कलेक्टर ने जिले के विभिन्न ग्राम पंचायतों के लिए नियुक्त किए गए नोडल अधिकारियों से उनके ग्राम पंचायतों से संबंधित विभिन्न समस्याओं और आवश्यकताओं की जानकारी ली। इसके साथ ही उन्होंने सभी नोडल अधिकारियों को उनके ग्राम पंचायतों में सचिव, सरपंच, पटवारी इत्यादि के द्वारा शासकीय कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही करते पाए जाने पर उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने सभी नोडल अधिकारियों को राज्य सरकार द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न योजनाओं के मैदानी स्तर पर क्रियान्वयन सुव्यवस्थित ढंग से किए जाने के निर्देश दिए हैं।

कलेक्टर ने बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों के अब तक के उनके एचीवमेंट की जानकारी लेते हुए उन्हें व्यक्तिगत रूप से अपने लक्ष्य बनाने के निर्देश दिए हैं। जिससे कि उनके लक्ष्य के अनुरूप उनके कार्यों की मॉनिटरिंग की जा सके। बैठक में उन्होंने सभी विभागों द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की। जनदर्शन और समय-सीमा की बैठक में अपर कलेक्टर श्री बी. सी. एक्का सहित विभिन्न जिला स्तरीय और अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button