कलेक्टर की ताबड़तोड़ दौरा: सुनी ग्रामीणों की समस्याएं

जागेश्वर सिन्हा

बालोद।

कलेक्टर किरण कौशल आज बालोद विकासखण्ड के ग्राम बरही और नर्रा में चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनी। उन्होंने गॉव में स्वीकृत और प्रगतिरत कार्यों की जानकारी ली। कलेक्टर के पूछने पर ग्रामीणों ने बताया कि गॉव में सीमांकन, नामांतरण और बंटवारा के प्रकरण लंबित नहीं हैं।

षासकीय उचित मूल्य की दुकान नियमित खुलता है। राशन समय पर मिलता है। हितग्राहियों को पेंशन की राशि दिसम्बर माह तक का प्राप्त हो गया है। आंगनबाड़ी केन्द्र समय पर खुलता है, पूरक पोषण आहार की गुणवत्ता अच्छी है। बच्चों को मीजल्स, रूबेला का टीका लग चुका है।

ग्राम बरही में ग्रामीणों ने तालाब सौंदर्यीकरण, पषु षेड निर्माण, गौठान निर्माण और हल्दीकोना से सूखा तालाब तक पानी पहुॅचाने हेतु नाली बनाने की मॉग की। ग्रामीणों ने छात्रवृत्ति दिलाने, निराश्रित पेंषन दिलाने, राषन कार्ड में नाम जोड़ने, दिव्यांग प्रमाण पत्र बनाने और प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास दिलाने की मॉग कलेक्टर से की।

ग्राम बरही के ग्रामीणों द्वारा उप स्वास्थ्य केन्द्र में ए.एन.एम. नियमित उपस्थित नहीं रहने की षिकायत पर कलेक्टर ने संबंधित ए.एन.एम. के विरूद्ध कार्रवाई के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए। इसी प्रकार ग्राम नर्रा के उप स्वास्थ्य केन्द्र में ए.एन.एम. की नियुक्ति नहीं होने की षिकायत पर कलेक्टर ने वहॉ नवीन पदस्थापना होते तक ए.एन.एम. संलग्न करने के निर्देश दिए।

इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी राजेन्द्र कुमार कटारा, एस.डी.एम. हरेश मण्डावी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.ए.के.एस.रात्रे, जिला षिक्षा अधिकारी श्री आषुतोष चावरे उपस्थित थे।

आगनबाड़ी केन्द्रों और स्कूलों का आकस्मिक निरीक्षण

कलेक्टर श्रीमती किरण कौषल आज बालोद, गुरूर और डौण्डी विकासखण्ड का भ्रमण कर विभिन्न अांगनबाड़ी केन्द्रों और स्कूलों का आकस्मिक निरीक्षण कर जायजा लिया। उन्होंने बालोद विकासखण्ड के ग्राम नर्रा में आंगनबाड़ी केन्द्र का निरीक्षण किया।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्र का उचित तरीके से संचालित करने, बच्चों को कविता और गीत के माध्यम से ज्ञानवर्धक षिक्षा देने तथा समय पर गुणवत्तापूर्वक पूरक पोषण आहार दिए जाने पर कलेक्टर ने सराहना कर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती ईष्वरी साहू और सहायिका हेमलता साहू को राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को सम्मानित करने के निर्देष महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी को दिए। उन्होंने डौण्डी विकासखण्ड के ग्राम पचेड़ा के आंगनबाड़ी केन्द्र का भी निरीक्षण कर जायजा लिया।

कलेक्टर ने डौण्डी विकासखण्ड के ग्राम घोटिया के कन्या आश्रम का निरीक्षण किया। कन्या आश्रम की छात्राओं से पढ़ाई तथा भोजन आदि के संबंध में चर्चा की। वहॉ आश्रम अधीक्षक आर.ठाकुर कन्या आश्रम में नही रहने की षिकायत की गई। षिकायत पर कलेक्टर ने कन्या आश्रम की अधीक्षक आर.ठाकुर को निलंबित करने के निर्देष दिए। कलेक्टर ने कहा कि छात्राओं की सुरक्षा में लापरवाही बर्दाश्त नही होगी।

कलेक्टर ने डौण्डी विकासखण्ड के ग्राम भर्रीटोला-36 के प्राथमिक षाला, माध्यमिक षाला और उच्चतर माध्यमिक शाला का भी निरीक्षण कर छात्रों तथा षिक्षकों की उपस्थिति की जानकारी ली। कलेक्टर ने षिक्षकों को निर्देषित किया कि वे जिम्मेदारीपूर्वक अपने दायित्वों का निर्वहन करें।

गुरूर विकासखण्ड के ग्राम नर्रा के प्राथमिक षाला के छात्र-छात्राओं ने कलेक्टर को गीत और कविता सुनाए। कलेक्टर ने छात्र-छात्राओं को मन लगाकर पढ़ाई करने प्रोत्साहित किया। ग्रामीणों ने मधुलिका गुप्ता (षिक्षक पंचायत) के तीन वर्ष से अनुपस्थित रहने और बच्चों का पढ़ाई प्रभावित होने की षिकायत पर कलेक्टर ने उसके विरूद्ध कार्रवाई के निर्देष दिए।

इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी राजेन्द्र कुमार कटारा, एस.डी.एम. श्री हरेष मण्डावी, जिला षिक्षा अधिकारी श्री आषुतोष चावरे और आदिवासी विकास विभाग की उपायुक्त श्रीमती माया वारियर उपस्थित थे।
मध्यान्ह भोजन की

गुणवत्ता में सुधार लाने के दिए निर्देश

कलेक्टर किरण कौशल आज डौण्डी विकासखण्ड के भ्रमण के दौरान ग्राम भर्रीटोला-36 के प्राथमिक षाला आकस्मिक पहुॅचे। वहॉ उन्होंने बच्चों के साथ बैठकर मध्यान्ह भोजन किया और उसकी गुणवत्ता परखी। सब्जी में गुणवत्ता कम होने पर कलेक्टर ने नाराजगी व्यक्त की।

उन्होंने प्रधानपाठक और मध्यान्ह भोजन संचालित करने वाली महिला स्व सहायता समूह की सदस्यों को उपस्थित कर मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता में सुधार लाने के निर्देष दिए। कलेक्टर ने बच्चों को मौसमी हरी सब्जी खिलाने के निर्देष दिए। इस अवसर पर जिला षिक्षा अधिकारी श्री आषुतोष चावरे, आदिवासी विकास विभाग की उपायुक्त श्रीमती माया वारियर और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ए.के.एस.रात्रे भी उपस्थित थे।
घोटिया के प्राथमिक

स्वास्थ्य केन्द्र का किया निरीक्षण

कलेक्टर किरण कौषल आज डौण्डी विकासखण्ड के ग्राम घोटिया के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण कर जायजा लिया। उन्होंने भर्ती मरीजों से भेंट कर उन्हें दवाईयॉ आदि मिलने की जानकारी ली।

उन्होंने संस्थागत प्रसव की प्रगति की जानकारी खण्ड चिकित्सा अधिकारी से ली तथा संस्थागत प्रसव में और प्रगति लाने के निर्देष दिए। कलेक्टर ने ग्राम भर्रीटोला के उप स्वास्थ्य केन्द्र का भी निरीक्षण किया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.ए.के.एस. रात्रे उपस्थित थे।

मनरेगा के तहत निर्मित कुॅआ का किया अवलोकन

कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल आज गुरूर विकासखण्ड के ग्राम नारागॉव में हितग्राही श्रीमती दुलारी बाई के खेत में महात्मा गॉधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत निर्मित कुॅआ का पैदल चलकर अवलोकन किया। हितग्राही ने कलेक्टर को प्रसन्नतापूर्वक बताया कि कुॅआ में पानी पर्याप्त भरा हुआ है। कलेक्टर ने हितग्राही दुलारी बाई को खेत में सब्जी उत्पादन कर आमदनी बढ़ाने प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राजेन्द्र कुमार कटारा उपस्थित थे।

आवासीय एकलव्य विद्यालय का किया निरीक्षण

कलेक्टर श्रीमती किरण कौषल आज विकासखण्ड मुख्यालय डौण्डी में निर्माणाधीन आवासीय एकलव्य विद्यालय का निरीक्षण कर जायजा लिया। उन्होंने निर्माण कार्य पूर्ण गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय पर पूर्ण कराने के निर्देष निर्माण एजेंसी को दिए। इस अवसर पर एस.डी.एम. श्री जी.एल.यादव, लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता श्री एम.एल.उईके और आदिवासी विकास विभाग की उपायुक्त श्रीमती माया वारियर उपस्थित थे।
धान उपार्जन केन्द्र हर्राठेमा और भर्रीटोला का किया औचक निरीक्षण

कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल आज बालोद तहसील के धान उपार्जन केन्द्र हर्राठेमा और डौण्डी तहसील के धान उपार्जन केन्द्र भर्रीटोला 36 का औचक निरीक्षण कर जायजा लिया। उन्होंने धान बिक्री करने आए किसानों से बातचीत की।

कलेक्टर के पूछने पर किसानों ने बताया कि उन्हें धान उपार्जन केन्द्र में किसी प्रकार की समस्या नहीं है। केन्द्रीय सहकारी बैंक के नोडल अधिकारी ने बताया कि धान खरीदी केन्द्र हर्राठेमा में 281 किसानों ने 10,676 क्विंटल धान बिक्री किया है। धान खरीदी केन्द्र भर्रीटोला-36 में 26 हजार क्विंटल धान खरीदी कर ली गई है। कलेक्टर ने मार्कफेड के अधिकारी को धान के उठाव में तेजी लाने के निर्देष दिए।

1
Back to top button