निर्वाचन संचालन के प्रबंध को नजदीक से देखकर अभिभूत हुए महाविद्यालयीन विद्यार्थी

रायपुर: महाविद्यालयीन छात्र-छात्राओं ने आज मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय का अध्ययन भ्रमण कर लोकसभा निर्वाचन के लिए की गई तमाम व्यवस्थाओं को नजदीक से देखा। निर्वाचन में युवाओं की सहभागिता बढ़ाने और उन्हें निर्वाचन प्रक्रियाओं से रू-ब-रू कराने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के आमंत्रण पर इन दिनों महाविद्यालीन विद्यार्थी बड़ी संख्या में अध्ययन भ्रमण पर आ रहे हैं।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने आज डॉ. सी. वी. रमन विश्वविद्यालय और छत्तीसगढ़ महाविद्यालय से आए छात्र-छात्राओं को निर्वाचन कार्यों को सफलतापूर्वक संपादित करने के लिए की जाने वाली व्यापक तैयारियों और व्यवस्थाओं के बारे में बताया। उन्होंने मतदान दलों, सुरक्षा बलों और निर्वाचन में लगने वाली सामग्रियों के प्रबंधन, परिवहन और प्रशिक्षण की व्यवस्था के बारे में भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आम निर्वाचन के दौरान व्यापक प्रबंधकीय कौशल, जिम्मेदारी और योजनाबद्ध कार्यों की जरूरत होती है।

सहायक मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रूपेश वर्मा ने छात्र-छात्राओं को आदर्श आचार संहिता, सी-विजिल एप और मतदाता सूची में नाम जुड़वाने की प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी दी। व्ही.ए.एफ. (वोटर जागरूकता फोरम) के राष्ट्रीय स्तर के मास्टर ट्रेनर प्रशांत पाण्डेय ने उन्हें भारत निर्वाचन आयोग के कार्यों के बारे में बताया।

उन्होंने विद्यार्थियों को इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन और वीवीपैट की कार्यप्रणाली के बारे में बताया। इस दौरान छात्र-छात्राओं ने ईवीएम को खुद संचालित करके देखा। विद्यार्थियों को मतदान करने के लिए शपथ भी दिलायी गई। मतदाता जागरूकता के लिए उन्हें प्रचार सामग्री भी वितरित की गई, जिससे कि वे अन्य लोगों को मतदान के लिए प्रेरित कर सकें।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में महाविद्यालयीन छात्र-छात्राओं ने कंट्रोल रूम, कॉल सेंटर, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया मॉनिटरिंग सेल और सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेल का भ्रमण किया। सहायक मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी शारदा अग्रवाल ने इन सभी प्रकोष्ठों के कार्यों के बारे में विद्यार्थियों को जानकारी दी। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के अधिकारियों ने निर्वाचन कार्यों और प्रक्रियाओं संबंधी उनकी जिज्ञासाओं और शंकाओं का भी समाधान किया।

Back to top button