चार मार्च को चुनाव स्थिति का जायजा लेने जम्मू-कश्मीर जाएंगे आयोग

राज्य की अंदरूनी सुरक्षा व्यवस्था का करेंगे आकलन

नई दिल्लीः जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद चुनाव आयोग की टीम चार मार्च को दो दिवसीय जम्मू-कश्मीर राज्य की अंदरूनी सुरक्षा व्यवस्था का आकलन करने जाएंगे. वहाँ वे चुनाव व्यवस्था का जायजा लेंगे. जिससे यह पता लगाया जा सकेगा कि लोकसभा चुनाव की तारीख की घोषणा कब किए जाना है.

आयोग की टीम राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी शैलेंद्र कुमार से मिल कर चुनावी तैयारियों का जायजा लेगी. इस दौरे में पुलिस व प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात कर राज्य के सुरक्षा हालात का भी जायजा लिया जाएगा. टीम वहां की सभी प्रमुख राजनीतिक पार्टियों से भी मुलाकात कर सकती है. साथ ही आयोग की टीम राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मिल सकती है.

इससे पहले आयोग के सदस्य 27 जनवरी जम्मू कश्मीर के दौरे पर जाने वाले थे. लेकिन, भारी बर्फबारी के कारण दौरा टाल दिया गया था. बता दें कि राज्य में लोकसभा की 6 सीटें हैं जिसमें से दो सीटों पर बीजेपी का कब्जा है जबकि एक सीट पर नेश्नल कॉन्फ्रेंस (एनसी) और एक सीट पर पीडीपी के सासंद हैं. अन्य दो सीटें अभी खाली है.

लोकसभा चुनाव के साथ-साथ प्रदेश में विधानसभा चुनाव भी होने हैं. फिलहाल जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लगा हुआ है. राज्य के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने पिछले साल 22 नवंबर को विधानसभा भंग कर दी थी.

Back to top button