छत्तीसगढ़

निगम की सीमा बढ़ाने आयुक्त ने 29 गांवों के प्रस्ताव की फाइल कलेक्टर को भेजी

अंकित मिंज

बिलासपुर।

नगर निगम सीमा बढ़ाने के लिए 29 गांवों का निगम में शामिल करने का प्रस्ताव नगर निगम आयुक्त सौमिल रंजन चौबे ने शुक्रवार की शाम कलेक्टर कार्यालय भेज दिया। इस प्रस्ताव का परीक्षण करने के बाद कलेक्टर राज्य शासन को भेज सकते हैं। प्रस्ताव में जानकारी दी गयी है कि निगम की सीमा बढ़ाने की सारी प्रक्रिया 2014 में पूरा कर ली गई थी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की घोषणा के बाद नगर निगम की सीमा बढ़ाने की प्रक्रिया में तेजी आयी है। नगर निगम आयुक्त सौमिल रंजन चौबे ने शुक्रवार को नजूल शाखा से 29 गांव के प्रस्ताव को मंगाया।

36 पन्ने के इस प्रस्ताव का परीक्षण करने के बाद शाम को कलेक्टर कार्यालय भेज दिया। अब इस प्रस्ताव का कलेक्टर द्वारा परीक्षण किया जाएगा। इसके बाद राज्य शासन को भेज दिया जाएगा। जानकारी के अनुसार प्रस्ताव राज्य शासन के पास पहु़चने के बाद इसमें दावा आपत्ति आमंत्रित की जाएगी। दावा आपत्ति के लिए संबंधित गांव के सरपंच व पंच और नगर पालिका के पार्षद व अध्यक्ष सहित अन्य पदाधिकारियों को बुलाया जाएगा। इसके बाद इस प्रस्ताव को फिर से शासन को भेजा जाएगा।

शासन द्वारा राजपत्र में दो बार प्रकाशन किया जाएगा। इसके बाद 29 गांवों को बिलासपुर नगर निगम सीमा में शामिल करने का आदेश निकाला जाएगा।

मंत्री और सचिव ने दिए आदेश

नगरीय कल्याण मंत्री शिव कुमार डहरिया ने नगरीय प्रशासन विभाग के सचिव ने स्वच्छता के संबंध में बैठक लेने के लिए वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से कलेक्टर को निर्देश दिए।

इसके साथ कलेक्टर को नगर निगम की सीमा बढ़ाने वाले प्रस्ताव को भेजने के लिए कहा। कलेक्टर के निर्देश पर अपर आयुक्त आरबी वर्मा ने 29 गांवों के प्रस्ताव की जांच करने के बाद आयुक्त सौमिल रंजन चौबे को सौंपा। आयुक्त परीक्षण के बाद प्रस्ताव को कलेक्टर कार्यालय भेज दिया है।

सरपंच व पंच का पद होगा खत्म

जिन गावों को नगर निगम सीमा में शामिल किया जाएगा, वहां के सरपंच व पंच के पद समाप्त हो जाएंगे। अलग से वार्ड का गठन होगा फिर पार्षद का चुनाव होगा। नगर पंचायत के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के पद समाप्त हो जाएंगे। महापौर और पार्षदों का चुनाव होगा।

तो मिल जाएगा बी ग्रेड

तत्कालीन महापौर वाणीराव ने नगरीय प्रशासन विभाग के तत्कालीन सचिव एम के राउत को पत्र लिखकर कहा था कि बिलासपुर को छग का दूसरा बड़ा शहर होने का गौरव प्राप्त है। किन्तु नगर निगम का सीमा क्षेत्र संभाग के अन्य नगर निगम से कम है।

रायगढ़ 39.36 वर्ग किमी, अम्बिकापुर 36.36 वर्ग किमी, कोरबा 215.00 वर्ग कि मी है। बिलासपुर 30 वर्ग किमी है। इसलिए 29 गावों को शामिल करना आवश्यक है। इससे शहर की जनसंख्या 5 लाख से अधिक हो जाएगा और बी ग्रेड का दर्जा मिल जाएगा।

ये होगा फायदा

29 गांव शामिल होंगे। शहर की सीमा वर्तमान में 30.24 वर्ग किमी है। 29 गांवों को मिलाने से 129 वर्ग किमी हो जाएगा। 2011 जनगणना के हिसाब से जनसंख्या 3 लाख 71 हजार है। सीमा बढ़ाने से नगर निगम की जनसंख्या 5 लाख से उपर हो जाएगा।

आपत्ति बुलाने पर विचार किया जाएगा

नगर निगम सीमा बढ़ाने का प्रस्ताव मेरे पास नहीं आया है। प्रस्ताव मिलने के बाद ही उस पर विचार किया जाएगा कि उसमें फिर से दावा आपत्ति बुलाई जाएगी कि या नहीं।
डॉ. संजय अलंग, कलेक्टर

Summary
Review Date
Reviewed Item
निगम की सीमा बढ़ाने आयुक्त ने 29 गांवों के प्रस्ताव की फाइल कलेक्टर को भेजी
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags