छत्तीसगढ़

राज्य के सार्वजनिक उपक्रमों पर समिति रखती है निगरानी: चरणदास महंत

सरकारी उपक्रमों की समिति की बैठक में बोले विधानसभा अध्यक्ष

रायपुर: विधानसभा अध्यक्ष डॉक्टर चरणदास महंत ने छत्तीसगढ़ विधानसभा की सरकारी उपक्रमों संबंधी समिति के बैठक में कहा कि सरकारी उपक्रमों संबंधी समिति के माध्यम से विधायिका राज्य के सार्वजनिक उपक्रमों के कार्यकल्पों पर निगरानी रखती है।

यह समिती प्रमुखतः सरकारी उपक्रमों के लेखे एवं प्रतिवेदनों, भारत के नियत्रक महालेखापरीक्षक तथा सरकारी उपक्रमों की जांच करती है। सरकारी उपक्रमों संबंधी समिति विधानसभा की महत्वपूर्ण वित्तीय समिति है।

उन्होंने कहा की सरकारी उपक्रमों पर विधायिका का नियंत्रण रखने तथा मित्व्ययिता के साथ जनहित में कार्य संचालित करने के लिए ही सरकारी उपक्रमों संबंधी समिति का गठन किया गया है. विधानसभा अध्यक्ष ने कहा की संसद एवं विधान मंडल के बहुत से कार्य लधु सदन के रूप से समितियों के माध्यम से किए जाते है।

समितियों को वे सभी अधिकार प्राप्त होते है , जो सदन को होते है। समिति लंबित कंडिकाओ के परीक्षण के लिए विभागीय सचिवों से साक्ष्य लेती है एवं स्थल निरीक्षण भी कर सकती है। उन्होंने कहा की कोरोना वैश्विक महामारी के कारण समिति की बैठकों में थोड़ा विलंब हुआ है।

उन्होंने व्यख्त किया की समिति अधिक से अधिक बैठकें कर लंबित कंडिकाओं का परीक्षण शीघ्र कर सभा में अपने प्रतिवेदन प्रस्तुत करेगी। समिति की बैठक में समिति के सदस्य बृजहमोहन अग्रवाल एवं महालेखाकार दिनेश पाटिल ने भी अपने विचार व्यख्त किए।

Tags
Back to top button