अधिकारी-कर्मचारियों का डाटाबेस कार्य दो दिवस के भीतर पूरा करें

कलेक्टर ने दिये आबादी पट्टा वितरण सुनिश्चित करने निर्देश

– मनीष शर्मा

कलेक्टर ने की वृक्षारोपण, वाटर हार्वेस्टिंग कार्यो की समीक्षा
अनुपस्थित पथरिया सीएमओ को कारण बताओ नोटिस जारी करने निर्देश…

मुंगेली : कलेक्टर डी. सिंह ने आज कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में समय सीमा के अंतर्गत अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय कामकाज की समीक्षा की। उन्होने जिला अधिकारियों को निर्देशित किया कि निर्वाचन कार्य हेतु अधिकारी-कर्मचारियों का डाटाबेस कार्य दो दिवस के भीतर पूरा करायें। नगरीय और ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी पट्टा का वितरण 31 जुलाई तक सुनिश्चित करने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये गये।

उन्होने वृक्षारोपण, वाटर हार्वेस्टिंग, लोकसुराज, विकास यात्रा एवं अमोरा में मुख्यमंत्री की घोषणा के क्रियान्वयन की जानकारी ली। समय सीमा की बैठक में अनुपस्थित रहने पर नगर पंचायत पथरिया के मुख्य नगर पालिका अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। उन्होने सोसायटियों में पर्याप्त मात्रा में खाद भण्डारण करने विपणन अधिकारी और सहकारी बैंक के नोडल अधिकारी को निर्देश दिये। कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि वृक्षारोपण के साथ-साथ सुरक्षा व्यवस्था भी सुनिश्चित करें। उन्होने लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता और एसडीओ को निर्माण कार्यो में तेजी लाने कड़े निर्देश दिये।

कलेक्टर सिंह ने समय सीमा की बैठक में लंबित आवेदन पत्रों को समय सीमा के भीतर निराकरण करने और शिकायतों की जांच कर जानकारी उपलब्ध कराने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होने मुख्यमंत्री जनदर्शन, मुख्य सचिव से प्राप्त आवेदनों, संभागायुक्त से प्राप्त आवेदनों, कलेक्टर जनदर्शन, पीजी पोर्टल, जनशिकायत विशेष प्रकोष्ठ से प्राप्त आवेदन, जनसंवाद से प्राप्त आवेदन, शासन के विभिन्न विभागों से प्राप्त आवेदनों की समीक्षा की तथा लंबित आवेदनों का निराकरण करने संबंधित अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये। उन्होने मिशन अंत्योदय एवं सांसद विधायक आदर्श ग्राम में क्रियान्वित योजनाओं की जानकारी ली। बैठक में बताया गया कि हरियर छत्तीसगढ़ योजना एवं हरियाली प्रसार योजना के अंतर्गत जिले में वृक्षारोपण का कार्य निरंतर जारी है।

कृषि विभाग द्वारा 15 हजार, जल संसाधन विभाग द्वारा 300, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा 2377, पशुपालन विभाग द्वारा 13 हजार, खनिज विभाग द्वारा 1300, लोक निर्माण विभाग द्वारा 400, आदिवासी विकास विभाग 2 हजार, आयुर्वेद और खाद्य विभाग 2-2 हजार, उद्योग विभाग 500, ग्रामीण यांत्रिकी 500, विद्युत विभाग 190, श्रम 500, नागरिक आपूर्ति 500, सहायक पंजीयक 500, समाज कल्याण 100 एवं चिप्स द्वारा 80 पौधे रोपित किये गये है। बैठक में बताया गया कि वन विभाग द्वारा ग्राम अमोरा में 3500 और उद्योग विभाग द्वारा 1200 फलदार पौधे ग्रामीण किसानों को बांटे गये। नगर पंचायत सरगांव द्वारा 780 पौधे लगाये गये और 720 पौधे घरों में वितरित किये गये। नगर पंचायत लोरमी में 1600 पौधे रोपित किये गये है।

बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लोकेश चंद्राकर, वनमण्डलाधिकारी केके जाधव, डिप्टी कलेक्टर आरआर चुरेन्द्र, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर.एल. घृतलहरे, उप संचालक कृषि एमआर तिग्गा, उप संचालक पशुपालन सेवायें डॉ. पटेल, कार्यपालन अभियंता विद्युत सतीष दुबे, कार्यपालन अभियंता पीएचई मिश्रा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Back to top button