10 जुलाई तक पूरा करें लक्ष्य, कमजोर नतीजे वाले शाखा प्रबंधकों पर होगी कार्रवाई

-कलेक्टर एवं स्टेट बैंक के जीएम  चंद्रशेखर पवार ने ली बैठक

राजनांदगांव ।

कलेक्टर भीम सिंह एवं स्टेट बैंक के जीएम चंद्रशेखर पवार ने ग्राम स्वराज अभियान के दौरान 450 ग्राम पंचायतों में जनधन खाते एवं बीमा योजनाओं के लिए हितग्राहियों के खाते खुलवाने के कार्य की समीक्षा की एवं इसकी धीमी प्रगति पर बैंकर्स पर कड़ी नाराजगी जाहिर की।

कलेक्टर ने कहा कि जनधन योजना एवं प्रधानमंत्री की बीमा योजनाएँ आम आदमी के सरोकारों से जुड़ी बुनियादी योजनाएँ हैं। यदि सुव्यवस्थित रूप से तथा कुशलता से कार्य किया जाए तो इनके लक्ष्य प्राप्त करना बेहद आसान हैं।

फिर भी कुछ शाखा प्रबंधकों द्वारा यह कार्य संतोषजनक ढंग से नहीं किया जा रहा है जो आपत्तिजनक है। इनके उच्चतर प्रबंधन को इस संबंध में अवगत कराया जाएगा। ग्राम स्वराज अभियान में बैंकिंग से संबंधित योजनाओं के राजनांदगांव जिले के प्रभारी श्री पवार ने कहा कि सेके्रटरी फाइनेंस सीधे लक्ष्यों पर नजर रखे हुए हैं। इसकी हर दिन मानीटरिंग की जा रही है।

जिन बैंकर्स का प्रदर्शन खराब है उनके संबंध में जानकारी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि अभी काफी समय है। बैंकर्स स्थानीय पंचायत प्रतिनिधियों के माध्यम से अथवा बैंक करसपाण्डेंट के माध्यम से लोगों को चिन्हांकित करें तथा लक्ष्य की दिशा में कार्य करें।

कलेक्टर ने बैंकर्स से कहा कि बीसी को समय पर इंसेटिव दिया जाए। सभी बीसी के कार्य की समीक्षा की जाए तथा जहाँ बीसी अक्रिय हैं उन्हें सक्रिय कीजिए।

लोगों में योजनाओं का लाभ उठाने गहरी उत्सुकता-

सीईओ जिला पंचायत ने बताया कि इसके लिए बिहान ने जो बैंक सखी का मॉडल बनाया है वो बड़ा कारगर साबित हुआ है। कल कोटराभाठा के अपने दौरे का अनुभव बताते हुए उन्होंने कहा कि एक बुजुर्ग महिला प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना की प्रीमियम राशि लेकर पहुँची।

जब उससे पूछा गया कि इसके बारे में किसने बताया तो उसने बैंक सखी के बारे में बताया। यह खुशी की बात है कि बैंक सखी लोगों को बीमा के लाभ के संबंध में बता रही हैं और लोग भी सक्रिय होकर स्वयं इसका लाभ लेने आ रहे हैं।

आधार कार्ड बनाने की समीक्षा

कलेक्टर ने बैंकर्स से आधार कार्ड जारी करने के संबंध में भी पूछा। उन्होंने कहा कि कलेक्ट्रेट में काफी संख्या में लोग आधार बनाने आते हैं।

लोगों को राहत मिले, इसलिए बैंक शाखाओं में भी आधार कार्ड बनाने की सुविधा आरंभ की गई थी। यह सुनिश्चित करें कि लोगों को इस संबंध में जानकारी हो तथा अधिकाधिक लोगों का आधार कार्ड बैंक में भी बनाना सुनिश्चित करें।

new jindal advt tree advt
Back to top button