बच्चों के अधिकारों के प्रभावी क्रियान्वयन पर आयोजित दो दिवसीय प्रशिक्षण संपन्न

बच्चों से जुड़े क़ानून और अधिनियमों के बारे में प्रशिक्षित किया गया

बच्चों के अधिकारों के प्रभावी क्रियान्वयन पर आयोजित दो दिवसीय प्रशिक्षण संपन्न

रायपुर : छत्तीसगढ़ राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग द्वारा आयोजित दो दिवसीय प्रशिक्षण संपन्न हो गया . इस प्रशिक्षण में प्रदेश के विभिन्न जिलों में बच्चों के हितों की रक्षा के लिए काम कर रहे व्यक्तियों को बाल मितान ,बाल मित्र और चाइल्ड राइट्स चैंपियन के रूप में चिन्हांकित कर उन्हें बच्चों से जुड़े क़ानून और अधिनियमों के बारे में प्रशिक्षित किया गया.

प्रशिक्षण कार्यक्रम में `राज्य में लैंगिक अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम 2012 (पॉक्सो एक्ट) एवं किशोर न्याय अधिनियम-2015 के प्रभावी क्रियान्वयन पर जोर देते हुए आयोग की अध्यक्ष प्रभा दुबे ने कहा कि बच्चों के क़ानूनी अधिकारों के बारे में समाज के हर व्यक्ति को जागरूक होना चाहिए तभी बाल शोषण ,बाल तस्करी और बाल मजदूरी जैसी कुरीतियों से मुक्ति मिल पाएगी.

उन्होंने प्रतिभागियों से अपील करते हुए कहा कि आप सभी अपने –अपने क्षेत्रों में जाकर बच्चों और उनके अभिभावकों से मिलकर उन्हें जागरूक करें. प्रशिक्षण के दूसरे दिन आज जशपुर, धमतरी, बलौदाबाजार, रायपुर, महासमुंद, बालोद व राजनांदगांव जिलों के बाल मितान, चाइल्ड राइट्स चैंपियन, बाल मित्र, चाइल्ड लाइन के प्रतिनिधि, विधि और समाज सेवा में स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रहे छात्र-छात्राएं शामिल हुए.

प्रशिक्षण के बाद आयोग की अध्यक्ष प्रभा दुबे ने प्रतिभागियों को बाल अधिकारों की रक्षा के लिए शपथ दिलाई. इसके बाद उन्हें प्रमाण पत्र वितरित किया गया

new jindal advt tree advt
Back to top button