मुंगेली जिले में अब तक 19 हजार मीट्रिक टन धान की खरीदी

कलेक्टर ने ली मिलरों की बैठक, कोचिए व बिचौलियों पर होगी सख्त कार्यवाही

– मनीष शर्मा

मुंगेली: कलेक्टर डी. सिंह ने कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में जिले के मिलरों की बैठक ली। बैठक में कोचियों द्वारा धान खरीदी किये जाने के संबंध में जानकारी देने पर कलेक्टर ने खाद्य अधिकारी और सहायक पंजीयक को कोचिये एवं बिचौलियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

उन्होंने जिले के समस्त एसडीएम और तहसीलदारों को धान खरीदी की जांच करने के भी निर्देश दिये। कलेक्टर ने मिलरों से कहा कि कस्टम मिलिंग सुचारू रूप से हो। पुराने और नये बारदाने की जानकारी रखें। उन्होंने मिलरों की बैठक में खरीफ विपणन वर्ष 2018-19 में धान उपार्जन एवं कस्टम मिलिंग कार्य की समीक्षा की।

धान खरीदी व्यवस्था से जुड़े जिला विपणन अधिकारी और खाद्य अधिकारी से कहा कि धान का उठाव सुनिश्चित करें। खाद्य अधिकारी ने बताया कि जिले में अब तक 19 हजार मे.टन धान की खरीदी की गई है। जिसमें 13 हजार मीट्रिक टन का डीओ जारी किया गया है। मनियारी सभाकक्ष में आयोजित बैठक में मिलरों ने केवाईसी कस्टम मिलिंग में अपनी समस्यायें बताई। बैठक में खाद्य अधिकारी राजेश जायसवाल, सहायक पंजीयक सहकारी समितियां सीएल जायसवाल, जिला विपणन अधिकारी मुकेश दुबे सहित खाद्य निरीक्षक एवं बड़ी संख्या में राईस मिलर्स उपस्थित थे।

धान खरीदी केंद्रों का आकस्मिक निरीक्षण : कलेक्टर ने धान उपार्जन केंद्र हथनीकला, गीधा एवं जरहागांव का आकस्मिक निरीक्षण किया। तीनों खरीदी केंद्र में शासन के निर्देशानुसार खरीदी कार्य व्यवस्थित रूप से संचालित पाया गया। हथनीकला केंद्र में नमी मापक यंत्र खराब स्थिति में पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए आगामी दिवसों में नमी मापक यंत्र से धान की नमी जांचकर खरीदी करने के लिए आवश्यक निर्देश दिये गये। इस दौरान सहायक पंजीयक सीएस जायसवाल, खाद्य अधिकारी राजेश जायसवाल, जिला विपणन अधिकारी गजेन्द्र राठौर, जिला सहकारी बैंक के नोडल संतोष ठाकुर उपस्थित थे।

1
Back to top button