दिल्ली का कनाट होटल 33 साल के लिए ताज ग्रुप के पास

नई दिल्ली:राजधानी नई दिल्ली के प्रमुख होटल ‘द कनॉट’ का अधिग्रहण टाटा समूह की कंपनी इंडियन होटल कंपनी लिमिटेड (आईएचसीएल) ने कर लिया है। नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) ने इस होटल को लीज पर देने के लिए ई नीलामी आयोजित की थी।

निगम के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘ताज समूह सफल बोलीदाता बन गया है। यह इस होटल के सकल कारोबार के 31.80 प्रतिशत या 5.868 करोड़ रुपए सालाना में से जो भी अधिक बनेगा, उस का भुगतान करेगा।’ अधिकारी ने कहा कि इस होटल से एनडीएमसी को मिलने वाला राजस्व अब लगभग दोगुना हो जाएगा। होटल का लाइसेंस 33 साल के लिए दिया गया है। यहां शहीद भगत सिंह मार्ग पर स्थित इस प्रमुख होटल में लगभग 85 कमरे, तीन हॉल व एक स्विमिंग पूल भी है।

उल्लेखनीय है कि बकाया लाइसेंस शुल्क का भुगतान नहीं किए जाने पर 2015 में होटल कनॉट और एशियन होटल को सील कर दिया गया था। होटल के प्रोमोटर रमेश कक्कर हैं। इन पर एनडीएमसी का लाइसेंस फीस के तौर पर 140 करोड़ रुपए बकाया है।

एनडीएमसी ने पिछले साल जनवरी में एशियन होटल की फिर से नीलामी की गई थी और उसके पट्टे के लिए एनडीएमसी को 45.5 लाख रुपए महीने की बोली मिली थी। लेकिन बोली लगाने वाली कंपनी बाद में पीछे हट गई। होटल को खरीदने की दौड़ में हॉस्पिटालिटी चेन सरोवर ग्रुप और बाइक होटल्स एंड रिसॉर्ट भी थे। इस होटल से ताज ग्रुप को दिल्ली के बीचो बीच जगह बनाने में मदद मिलेगी।

Back to top button