टाइगर को लेकर फिक्रमंद, मगर आश्वस्त भी : जैकी

मुंबई: दिग्गज अभिनेता जैकी श्रॉफ अपने एक्शन हीरो बेटे टाइगर श्रॉफ द्वारा खतरनाक दृश्य करने पर चिंतित हो जाते हैं, लेकिन वह कहते हैं कि वे उनकी प्रतिभा को लेकर आश्वस्त हैं।

टाइगर द्वारा ‘हीरोपंती’, ‘बागी’, ‘मुन्ना माइकल’ और ‘बागी 2’ में फिल्माए गए एक्शन दृश्यों के लिए उन्हें सकारात्मक प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं। टाइगर ने मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण लेने के बाद फिल्मी दुनिया में कदम रखा था। जैकी ने कहा, वह बचपन से मार्शल आर्ट कर रहा है, इसलिए उसके पास पर्याप्त आत्मविश्वास है। वह सभी वरिष्ठ एक्शन कोरियोग्राफरों के साथ काम करता है।

उन्होंने कहा, आज की तकनीक हमारे समय से ज्यादा उन्नत है.. ऊंचाई से कूदने पर तारों से बांधने के बावजूद खतरा रहता है, क्योंकि ऊंचाई से जमीन की बस्तुएं बहुत छोटी दिखती हैं। जैकी (61) ने गर्व से कहा, मैं जानता हूं कि एक सकारात्मक ऊर्जा है, जो मेरे बेटे की रक्षा करेगी। जैकी ने अपना फिल्मी सफर साल 1982 में शुरू किया था और उन्हें ‘परिंदा’, ‘खलनायक’, ‘रंगीला’, ‘1942 : अ लव स्टोरी’ और ‘देवदास’ में अभिनय के लिए जाना जाता है।

जैकी ने कहा कि वास्तव में उनकी पीढ़ी ने तकनीक के कारण सिनेमा के बदलते स्वरूप को देखा है। उन्होंने कहा, आज कलाकारों और फिल्म के अन्य सदस्यों की सुरक्षा का ध्यान रखा जाता है। तब हम लोग भी फिक्र करते थे, लेकिन जब हमें किसी चीज की जरूरत होती थी तभी हमें वो चीज मिलती थी। आज आपको हर फिल्म के सेट पर एम्बुलेंस मिलेगी, पहले यह इतना व्यवस्थित नहीं था।

जैकी ने विधु विनोद चोपड़ा, संजय लीला भंसाली, सुभाष घई, राम गोपाल वर्मा और दिवंगत ऋतुपर्णा घोष के साथ काम किया है। इतने सालों तक सक्रिय रहने के सवाल पर उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि मेरे अंदर सीखने की ललक है। मैं लोगों से संबंध नहीं तोड़ता.. मैं एक बच्चे से भी उतना जुड़ जाता हूं, जितना युवाओं से। उन्होंने कहा, मैं अपने इस जीवन को महत्व देता हूं और इसके लिए उस सर्वशक्तिमान को धन्यवाद देता हूं।

Back to top button