एम्स में इलाज के लिए भर्ती कोरोना पॉजीटिव छात्रा की हालत स्थित

रायपुर: छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस की पहली पॉजिटिव मरीज मिला है. मिली जानकारी के मुताबिक एक युवती में कोरोना पॉजिटिव पाया गया है और उसे माता-पिता के साथ आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है.

वहीँ अभी छात्रा की हालत स्थित बनी हुई है. उसे आइसोलेशन वार्ड में रखकर सभी आवश्यक चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जा रही है. इसके साथ ही संदिग्ध रोगियों की स्क्रीनिंग और काउंसलिंग के लिए गेट नंबर के अंदर स्थित आयुष भवन में संपूर्ण व्यवस्थाएं की गई है.

डॉ. पिपरे ने बताया कि शनिवार से संदिग्ध रोगियों को सीधे आयुष बिल्डिंग में उपचार और सलाह दी जाएगी. इसके अतिरिक्त आयुर्वेद, योग यूनानी सिध्दा और होम्योपैथी की नियमित ओपीडी को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है.

उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के सैंपल के लिए आने वाले रोगियों की संख्या को देखते हुए निर्णय लिया गया है कि इन्हे सीधे एम्स के गेट नंबर एक से आयुष विल्डिंग जाकर हैल्प डेस्क पर संपर्क करना होगा. यहां संदिग्ध रोगी की ट्रेवल हिस्ट्री और लक्षणों को देखकर या तो उन्हे सैंपल देने के लिए चिकित्सक के पास भेजा जाएगा या उनकी काउंसलिंग की जाएगी.

इसके लिए आयुष बिल्डिंग में दूसरे तल पर सारी ब्यवस्था की गई है. उन्होंने कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए इन कदमों को उठाने की जानकारी देते हुए लोगों से अपील की है कि यदि आश्यक न हो तो अभी ओपीडी में न आएं.

Tags
Back to top button