उत्तराखंड में मोदी ने विश्व योग दिवस की सभी को बधाइयाँ दी

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर हो सकता है 'वर्षा योग'

देहरादून : आज उत्तराखंड के देहरादून में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर भारतीय वन अनुसंधान संस्थान परिसर में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कहा कि मैं देवभूमि उत्तराखंड की इस पावन धरती से दुनिया को चतुर्थ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की बधाई देता हूं।

मां गंगा की इस धरती, जहां चारधाम स्थित हैं और स्वामी विवेकानंद को यह धरती बार बार अकर्षित करती है। यहां योग करना सौभाग्य की बात है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा जब तोड़ने वाली ताकतें बढती हैं, तो बिखराव आता है।

ऐसे में योग समृद्ध कर रहा है। योग शांति की अनुभूति कराता है। समाज में सदभाव बढाता है। उन्होंने योगासन और उत्तराखंड के भूमि के बारे में भाषण देते हुए सभी लोगों को विश्व योगासन दिवस की सभी को बधाइयाँ दी.

इस दौरान सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने चतुर्थ अंतरराष्‍ट्रीय योग की मेजबानी उत्‍तराखंड को मिलनी गौरव की बात है। कहा आपका (मोदी) का इस देवधरा से विशेष लगाव है, इस लिए आप हमारी चिंता करत हैं। मेजबानी के लिए सीएम ने पीएम मोदी का धन्‍यवाद किया।

इस बार उत्तराखंड के लिए अंतरराष्ट्रीय योग दिवस ऐतिहासिक होने जा रहा है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां की आवाम के बीच मौजूद रहेंगे। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम नरेंद्र मोदी उत्तराखंड में होंगे। वो एफआरआइ में दूनवासियों के साथ योग करेंगे।

उनके इस दौरे के लिए सभी तरह की तैयारियां पूरी कर ली गर्इ हैं। साथ ही योग दिवस के लिए एफआरआइ को भी पूरी तरह से तैयार कर लिया गया है। माना जा रहा है कि पीएम मोदी के साथ करीब 50 हजार से ज्यादा लोग योग करेंगे। आपको बता दें कि योग से पहले पीएम मोदी एफआरआइ से देश और दुनिया को संदेश भी देंगे।पीएम के साथ योग करने के लिए दूनवासी उत्साहित

देहरादून में पीएम मोदी के साथ योग करने को लेकर लोगों में बेहद उत्साह है। हर किसी को योग दिवस की सुबह का बेसब्री से इंतजार है। क्योंकि इस सुबह वो देश के प्रधानमंत्री के साथ योग करेंगे, साथ ही उनसे संवाद भी करेंगे।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर हो सकता है ‘वर्षा योग’

अगर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के दिन बारिश हुर्इ तो ऐसी स्थिति में वर्षा योग किया जाएगा। हालांकि मौसम विभाग के अनुसार बारिश की संभावनाएं कम ही हैं। हालांकि इसके लिए भी अधिकारियों को तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं।

शू बैग और वाटर प्रूफ मोबाइल पाउच का इंतजाम

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर बारिश के आसार देखते हुए योग मैट के साथ ही शू बैग और वाटर प्रूफ मोबाइल पाउच का इंतजाम किया गया है। योग दिवस के दिन सुबह पांच बजे के बाद किसी को भी एफआरआइ में प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

Back to top button