रायपुर में हुआ किन्नरों का सामूहिक विवाह, राष्‍ट्रपति ने दी बधाई

रायपुर। कुछ समय पहले देश के कानून में एक अहम बदलाव हुआ और किन्नर के नाम से पहचाने जाने वाले तृतीय लिंग समुदाय को कानूनी मान्यता मिली। इसके बाद इनकी स्थिति में सुधार का दौर शुरू हुआ और अब किन्नर समाज में अपने दर्जे के साथ आगे बढ़ रहे हैं। इसी दिशा में एक नई पहल रायपुर में हुई है।

देश में पहली बार किन्नरों का सामूहिक विवार यहां शनिवार को आयोजित हुआ। इसमें 15 जोड़ों का विवाह हुआ। दुल्हन के रूप में सजी किन्नरों के साथ युवकों ने शादी की रश्में निभाईं और अग्नी के सात फेरे लेकर उन्हें अपनी पत्नी के रूप में स्वीकार किया।

हिंदू रीति-रिवाज से सभी रस्में पूरी की गईं। पचपेड़ी नाका स्थित पुजारी पार्क में मंडप सजाया गया और यहीं इन जोड़ों ने वैवाहिक जिंदगी में प्रवेश किया। चित्राग्राही फिल्म्स की पहल पर आयोजित किन्नरों का विवाह पूरे विधि विधान से संपन्न हुआ। दूल्हे घोड़ी पर चढ़कर बारात ले कर निकले और अपनी दुल्हन को डोली में बिठाकर लाया।

Back to top button