IPL 2020 और ड्रीम 11 को लेकर कांग्रेस ने सरकार लगाया यह आरोप

आईपीएल 2020 के शुरू होने में अब चंद दिन ही शेष बचे हैं

Dream 11 ipl 2020 : आईपीएल के लिए चीनी स्‍पॉन्‍सर (IPL in UAE) को अनुमति देने को लेकर कांग्रेस ने गुरुवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए उस पर दोहरे मानक अपनाने का आरोप लगाया है. कांग्रेस (Congress) प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी (Abhishek Manu Singhvi) ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयाजित प्रेसवार्ता के दौरान पूछा कि क्या यहां यह उन गरीब पीड़ितों के लिए दोहरे मानक हैं जिनके बारे में आप आत्मानिर्भरता का उपदेश देते हैं या यह पक्षपात है? उन्होंने उम्मीद जताई कि सरकार राष्ट्रीय धन, राष्ट्रीयता देशभक्ति के संबध में अंतरात्मा को संतुष्ट करेगी कि क्यों उसने चीन के निवेश वाली कंपनी को इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल का प्रायोजक होने की अनुमति दी.

आपको बता दें कि आईपीएल 2020 के शुरू होने में अब चंद दिन ही शेष बचे हैं. ऐसे में अब आईपीएल का नया लोगो भी जारी हो गया है. ड्रीम 11 ही आईपीएल का नया स्‍पॉन्‍सर है, जो 18 अगस्‍त से दिसंबर 2020 का टाइटल स्‍पॉन्‍सर है. ड्रीम11 ने इस साल चीनी कंपनी वीवो की जगह लगभग साढ़े चार महीने के करार के लिए 222 करोड़ रुपये की बोली के साथ आईपीएल का टाइटिल प्रायोजन अधिकार हासिल किया है. ड्रीम11 पहले से ही पिछले कुछ वर्षों से आईपीएल के प्रायोजन से जुड़ा है. ड्रीम11 ने सबसे ज्‍यादा 222 करोड़ रुपये की बोली के साथ अधिकार हासिल किया है. बोली लगाने में ड्रीम 11 के बाद बायजूस (201 करोड) अनएकेडमी (170 करोड़) दूसरे तीसरे स्थान पर रहे. भारत चीन के बीच सीमा पर गतिरोध के कारण वीवो बीसीसीआई ने इस सीजन के लिए हर साल 440 करोड़ रुपये के करार को रद कर दिया था. इस बीच ड्रीम11 में चीनी कंपनी टेनसेंट के निवेश को लेकर सवाल उठ रहे हैं लेकिन बीसीसीआई के अंदरूनी सूत्रों ने कहा कि यह 10 प्रतिशत से भी कम है. ड्रीम11 एक भारतीय कंपनी है जिसकी स्थापना हर्ष जैन भावित शेठ ने की है.

हालांकि इस बीच खबरें इस तरह की भी आई थी कि ड्रीम 11 अगले दो साल यानी 2021 2022 के लिए भी टाइटल स्‍पॉन्‍सर रह सकता है, लेकिन रकम को लेकर बीसीसीआई ड्रीम 11 के बीच नहीं पटी, इसलिए अब अगले साल आईपीएल का स्‍पॉन्‍सर कौन होगा, यह अभी तक तय नहीं है. ड्रीम11 ने वीवो के प्रत्येक साल 440 करोड़ रुपये के करार पर वापसी नहीं करने की स्थिति में 2021 2022 में प्रत्येक साल 240 करोड़ रुपये का भुगतान करना करने की पेशकश की है. बताया जाता है कि ड्रीम11 की बोली सबसे अधिक है लेकिन बीसीसीआई उसे 240 करोड़ रुपये में क्यों अधिकार सौंपे जबकि हम अगले दो वर्षों में कोविड-19 की स्थिति में सुधार की उम्मीद कर सकते हैं. वीवो के साथ हमारा करार अब भी कायम है. हमने इसे खत्म नहीं किया है, यह बस रुका है. अगर हमें 440 करोड़ रुपये मिल रहे हैं तो हम 240 करोड़ रुपये क्यों लें.

आपको बता दें कि अब टीमों का यूएई पहुंचना शुरू भी हो गया है. एक से दो दिन में आठो टीमें यूएई पहुंच जाएंगी, उसके बाद टीमों को क्‍वारंटीन में रहना होगा, उसके बाद टीमों की प्रैक्‍टिस होगी, इससे पहले टीम के सभी सदस्‍यों का कोविड 19 टेस्‍ट होगा, उसमें सभी को निगेटिव आना होगा. इस साल का आईपीएल 19 सितंबर से शुरू होकर 10 नवंबर तक चलेगा. पहला ही मैच मुंबई इंडियंस चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के बीच होने जा रहा है. यानी पहले ही मैच में आईपीएल का पूरा रोमांच देखने के लिए मिलेगा.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button