कांग्रेस और छह अन्य दलों ने चीफ जस्टिस के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव का नोटिस

71 सदस्यों ने किया हस्ताक्षर

नई दिल्ली। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू रविवार को कांग्रेस की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद अपनी हैदराबाद यात्रा बीच में छोड़कर दिल्ली लौट आए। दिल्ली पहुंचते ही नायडू ने महाभियोग पर अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल, लोकसभा के पूर्व महासचिव सुभाष कश्यप, पूर्व विधि सचिव पीके मल्होत्रा और पूर्व विधायी सचिव
संजय सिंह से कानूनी और संवैधानिक मुद्दों पर चर्चा की।

कांग्रेस और छह अन्य दलों ने शुक्रवार को सभापति को चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव लाने का नोटिस दिया है। इस पर 71 सदस्यों के हस्ताक्षर हैं, जिनमें से सात सेवानिवृत्त हो चुके हैं।

कांग्रेस नेता विवेक तन्खा, ऐमी याज्ञनिक और राज्यसभा सदस्य केटीएस तुलसी ने रविवार को भाजपा पर महाभियोग पर राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि महाभियोग प्रस्ताव के नोटिस पर सभापति नायडू के कार्यालय ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसलिए चीफ जस्टिस को कोर्ट के काम नहीं करने चाहिए। अगर नोटिस रद्द हुआ तो सुप्रीम कोर्ट जाएंगे।

Back to top button