कांग्रेस का घोषणा पत्र नहीं ढकोसला पत्र: नरेंद्र मोदी

खेतिहर किसानों व छोटे व्यापारियों को पेंशन देंगे

कोरबा/रायपुर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज छत्तीसगढ़ में हुंकार भरते हुए कांग्रेस की रीति-नीति पर जमकर हमला बोला। प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम लिए बगैर उनके एक बयान ‘सारे चोर मोदी ही क्यों होते हैं?’ पर निशाना साधा और कहा कि छत्तीसगढ़ में जो साहू हैं, उन्हें गुजरात में मोदी कहते हैं। नामदार ऐसा सवाल करके छत्तीसगढ़ के सभी साहूओं को भी चोर बता रहे हैं।

क्या नामदार को ऐसा कहना शोभा देता है? उन्होंने पूरे समाज को चोर बता दिया है। यह सल्तनत वाली मानसिकता है। आज मोदियों को चोर बताने वाले कल आदिवासियों को चोर बता सकते हैं, परसों किसी और को। वंशवाद और परिवार को चुनौती मिलती है तो वे सबको गालियां देते हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कोरबा और भाटापारा में भारतीय जनता पार्टी की चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस की न नीति साफ है और न ही नीयत।

मोदी ने अपने संबोधन में नामदार परिवार के भ्रष्ट कारनामों, घोटालों की चर्चा कर कहा कि दूसरों को चोर बताने वाले खुद करोड़ों की टैक्स चोरी के मामले में जमानत पर हैं। अब तो यह परिवार अपने मुख्यमंत्री के तौर पर भी उनको ही पसंद करता है जो जमानत पर हों। मोदी ने आरोप लगाया कि बोफोर्स सौदे के लिए इस परिवार ने रक्षा-सुरक्षा में दलाली खाई और केंद्र द्वारा दी जाने वाली राशि में भी उन्होंने करोड़ों का घोटाला तीन महीने में ही कर डाला और तुगलक रोड चुनाव घोटाले में करोड़ों रुपए इधर-उधर किए गए। ऐसे घोटालेबाजों को सजा जरूर मिलेगी।

शहीद वीरनारायण सिंह और शहीद गुंडाधुर को नमन करते हुए प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन की शुरुआत की और प्रदेश में बढ़ती नक्सली हिंसा पर चिंता जताई। उन्होंने कहा कि जिस प्रदेश में नक्सली वारदातें एकदम काबू में आ गई थीं, प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आने के बाद इनमें इजाफा हुआ है। नक्सलियों को क्रांतिकारी बताए जाने के एक बयान का जिक्र कर मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस की रीति-नीति से इन नक्सलियों का हौसला बढ़ रहा है। हमारी सरकार आदिवासी क्षेत्रों के विकास में लगी है और नक्सली छत्तीसगढ़ को फिर विनाश की ओर ले जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस के चुनावी घोषणा पत्र को ढकोसला पत्र कहते हुए सवाल उठाया कि राष्ट्रवाद का कानून खत्म करने की बात कहकर क्या कांग्रेस विकास के बजाय विनाश के साथ खड़ी होना चाहती है? छत्तीसगढ़ को यह तय करना है कि यहां लैंडमाइन्स की लाइन बिछे या बिजली की लाइन बिछे? क्या जंगलों में रहने वाले शांत व सहज-सरल स्वभाव के लोगों के साथ कांग्रेस आतंक की खुली छूट देना चाहती है? मोदी ने कहा कि कांग्रेस सिर्फ नक्सलियों का हौसला ही नहीं बढ़ा रही है, अपितु वह टुकड़े-टुकड़े गैंग के साथ भी खड़ी है और देश की सीमाओं पर सुरक्षा में लगे जवानों के मनोबल को कमजोर करने में लगी है।

कांग्रेस सीमा पर तैनात जवानों का सुरक्षा कवच हटाने की बात कहती है। देश की रक्षा में लगे वीर जवानों का यह कानूनी अधिकार छीनने की बात कांग्रेस कर रही है, तो आतंकवादी और अलगाववादी ताकतें खुश हो रही हैं। क्या कांग्रेस को सुरक्षा जवानों के मनोबल और राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ करने दिया जाएगा? प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दरअसल कांग्रेस अब जमीन से कट चुकी पार्टी रह गई है और इसलिए वह जमीनी सच और देशवासियों की भावनाओं को समझ नहीं पा रही है।

प्रधानमंत्री मोदी ने छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार आने के बाद आयुष्मान भारत योजना बंद किए जाने पर भी सवाल उठाया। मोदी ने आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार द्वारा इसी तरह किसान सम्मान निधि योजना के क्रियान्वयन में अड़ंगेबाजी की गई। जमानती लोगों की सरकार प्रदेश के छोटे किसानों को लाभान्वित नहीं होने दे रही है। मोदी ने कहा कि किसानों और लोगों के साथ इस तरह विश्वासघात किया जा रहा है। कांग्रेस को लोगों से भेदभाव और विश्वासघात का दशकों पुराना अनुभव है।

कांग्रेस के पूर्ववर्ती यूपीए शासनकाल के घोटालों की चर्चा करते हुए मोदी ने कहा कि कांग्रेस व उसके साथी केंद्र में मजबूर सरकार चाहते हैं ताकि वह देश को लूटें। देश के लोगों के हितों पर कांग्रेस के पंजे ने झपट्टा मारा है। कांग्रेस लोगों को मिल रही सुविधाओं और लाभकारी योजनाओं को बंद करने पर आमादा है तो भाजपा इन योजनाओं व सुविधाओं को और विस्तार देने के लिए संकल्पित है।

उन्होंने ऐलान किया कि किसान सम्मान निधि योजना के दायरे में हम सभी किसानों को लाएंगे और खेतिहर मजदूरों व छोटे दुकानदारों को भी पेंशन देंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने अपील की कि सबके साथ सबका विकास हमारा मूलमंत्र है और इसे साकार करने के लिए एक-एक वोट भाजपा को मिले ताकि एक मजबूत सरकार केंद्र में आएगी तो वह जनकल्याण और राष्ट्रहित में कारगर व सार्थक फैसले लेगी।

मोदी ने कहा कि आसन्न लोकसभा चुनाव में सिर्फ सांसद या सरकार ही नहीं चुनना है, अपितु ये चुनाव इस बात का निर्णय करेंगे कि नए भारत का विश्व में कैसा दम-खम होगा, कैसी प्रतिष्ठा होगी? सर्जिकल व एयर स्ट्राइक तथा मिशन शक्ति की लॉन्चिंग की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज विश्व में भारत की जो प्रतिष्ठा बढ़ी है, वह हर एक देशवासी के वोट की शक्ति से अर्जित ताकत से बढ़ी है।

उन्होंने कहा कि इन चुनावों में आपका वोट केंद्र में मजबूर नहीं, मजबूत सरकार के साथ भारत व छत्तीसगढ़ को नई ऊंचाईयों पर ले जाएगा। मोदी ने दावा किया कि देशभर में भाजपा के पक्ष में चल रही लहर से कांग्रेस और महामिलावटियों की नींद उड़ गई है।

Back to top button