कांग्रेस सरकार आदिवासी युवाओं के आकांक्षाओं का कर रही अपमानः धरमलाल कौशिक

रायपुर: नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि प्रदेश सरकार के एक मंत्री द्वारा आदिवासी समाज के युवकों को पंचर बनाकर जीवन जीने की सलाह दिये जाने पर तंज कसा है। श्री कौशिक ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार की इस सोच ने प्रदेश सरकार और कांग्रेस के राजनीतिक चरित्र को बेनकाब कर दिया है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि आदिवासियों के हितों की रक्षा और कल्याण की डींगें हाँकने वाली प्रदेश सरकार की असलियत अब जनता के सामने आ गई है।

प्रदेश के एक मंत्री शिव डहरिया ने आदिवासी समाज के युवकों को पंचर बनाकर अपनी आर्थिक उन्नति करने की जो सलाह दी है, वह एक तो आदिवासी युवकों की आकांक्षाओं का अपमान हैय और दूसरे, यह सलाह देकर मंत्री डहरिया ने प्रदेश सरकार की सोच की पोल खोल दी है। इससे स्पष्ट हो गया है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार आदिवासियों के विकास का सिर्फ स्वांग रचने में माहिर है। आदिवासियों के विकास के नाम पर यह जुमलेबाजी और सियासी नौटंकी कांग्रेस को भारी पड़ेगी।

कौशिक ने कहा कि राज्य की पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने आदिवासी समाज के उत्थान अनेक योजनाएँ चलाकर आदिवासी युवकों को पुरुषार्थी और दक्ष बनाकर उन्नति के पथ पर ले जाने का काम किया। भाजपा का स्पष्ट दृष्टिकोण और चिंतन रहा है कि प्रदेश के आदिवासियों को सम्मानपूर्वक विकास की मुख्यधारा से जुड़कर सर्वांगीण विकास के समान अवसर उपलब्ध हों और समाज की युवा शक्ति उच्चतम पदों पर पहुँचकर समाज, प्रदेश व देश की सेवा करे। भाजपा इसके लिए प्रतिबद्ध है।

लेकिन कांग्रेस के नेता-मंत्री आदिवासियों के प्रति ऐसी ओछी मानसिकता प्रदर्शित कर आदिवासी युवकों के सपनों और पुरुषार्थ का मखौल उड़ा रहे हैं। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने मंत्री डहरिया समेत प्रदेश सरकार और कांग्रेस नेताओं से अपनी इस ओछी मानसिकता व शर्मनाक बयान के लिए आदिवासी समाज से क्षमायाचना करने की मांग की है।

Tags
Back to top button