राजनीति

कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया खुलेआम कोरोना नियमों का उल्लंघन कर रहे-संजय श्रीवास्तव

कोरोना नियमों के उलंघन के तहत कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया सहित कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ कड़ी कार्यवाही हो-भाजपा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पर खुलेआम कोरोना नियमों उलंघन करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया शुक्रवार की शाम रायपुर पहुंचे उनका स्वागत है पर कोरोना संकट के समय अपने स्वागत में सैकड़ो की भीड़ एकत्रित करवाना, होटल में भी भीड़ जुटाना खुलेआम नियमों का उलंघन करना है।

आम आदमी अगर बिना मास्क के निकले तो उसका चालान

आम आदमी घर से नहीं निकल रहा सावधानी बरत रहा है। आम आदमी अगर बिना मास्क के निकले तो उसका चालान काट दिया जाता है। वहीं प्रदेश कांग्रेस प्रभारी के स्वागत में जुटे कांग्रेस के नेता, कार्यकर्ताओं सहित खुद पीएल पुनिया कोरोना नियमों का खुलेआम उलंघन किए जा रहे है,उस पर कोई कार्यवाही नहीं की गई।

उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, मोहन मरकाम, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से जवाब मांगते हुए कहा कि ऐसी क्या मजबूरी है? निगम मंडलों की सूची के लिए भीड़ एकत्रित करना कहाँ तक उचित है? कोरोना के नियम केवल विपक्ष और आम जनता के लिए ही हैं क्या? उन्होंने प्रशासन से कोरोना नियमों के उलंघन के तहत कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया सहित कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने की मांग की है।

भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जारी गाइडलाइन का पालन नहीं करने पर प्रदेश सरकार अपने संगठन प्रभारी पर कार्रवाई करने का नैतिक साहस इसलिए भी नहीं दिखा पा रही है क्योंकि प्रदेश के मुख्यमंत्री, मंत्री, सांसद-विधायक समेत कांग्रेस से जुड़े जनप्रतिनिधि व संगठन के लोग ख़ुद ही इस गाइडलाइन का ईमानदारी से पालन नहीं कर रहे हैं। विभिन्न सरकारी बैठकों और सार्वजनिक कार्यक्रमों में वे न तो मास्क पहनते हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का गंभीरता से पालन करते नजर आते है।

भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार और प्रशासन कोरोना रोकथाम की गाइडलाइन के पालन को लेकर जिस तरह अपनी राजनीतिक सुविधा के अनुसार सख़्त और नर्म रुख़ अख़्तियार कर रहा है उससे साफ़ हो जाता है कि प्रदेश सरकार छत्तीसगढ़ में कोरोना की रोकथाम के उपायों को लेकर क़तई गंभीर नहीं है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button