छत्तीसगढ़

दलितों, पीड़ितों, शोषितों, वंचितों और गरीबों को सिर्फ वोट बैंक मानती है कांग्रेस: मोदी

जगदलपुर की आम सभा में प्रधानमंत्री ने मांगा भाजपा के लिए समर्थन

जगदलपुर।

प्रधानमंत्री नरेंद्रमोदी ने आज जगदलपुर में विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए बस्तर संभाग के सभी भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में वोट करने का आवाहन किया। इस दौरान पीएम मोदी ने बस्तर में किए गए विकास कार्यों को गिनाया साथ ही आगे भी विकास होता रहे इसलिए डॉ. रमन सिंह की सरकार फिर से बनाने की अपील की।

उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार ने कभी भी किसी जाति, समाज, वर्ग में फर्क नहीं किया है। हमारा सिर्फ एक मूल उद्देश्य है सबका साथ- सबका विकास। बस्तर मेरे दिल के सबसे करीब है,

मैं यहां जब भी आया हूं कभी खाली हाथ नहीं आया। आज आप सबको इतनी बड़ी संख्या में यहाँ देख के लग रहा है की विकास की जो रैली चली है वो आज यहाँ जन सागर में परिवर्तित हो गई है।

छत्तीसगढ़ में भाजपा के नेतृत्व में जो विकास यात्रा चली है उसको रुकने नहीं देना, वो समय अब दूर नहीं है जब छत्तीसगढ़ देश के उत्तम राज्यों में से एक होगा। भाजपा किसी की कृपा पर रहने के स्वभाव की नहीं है, हमारी हाईकमान सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानी है।

अटलजी ने छत्तीसगढ़ के लिए जो सपने देखें थे उनको पूरा करने के लिए मैं बार-बार छत्तीसगढ़ आया हूं। जब तक मैं अटल जी के सपने पूरे नहीं कर देता तब तक चैन से बैठने वाला नहीं हूं।

हमें बस्तर के हर नौजवान का भविष्य बदलना हैं। छत्तीसगढ़ की जनता समझदार है इसलिए आपने पिछले 15 वर्षों से भाजपा को अपना आशीर्वाद देकर प्रदेश के विकास की यात्रा को लगातार आगे बढ़ाया है।

बलीराम कश्यप को किया याद

प्रधानमंत्री ने कहा कि मुझे स्व. बलीराम कश्यप जी के साथ पूरे बस्तर का भ्रमण करने का अवसर प्रदान हुआ था। उन्होंने मुझे बस्तर का कोना-कोना घुमाया है और यहां कि संस्कृति से अवगत कराया था। आज स्व. बलीराम कश्यप जी बस्तर का विकास देखकर बहुत खुश होंगे।

पीएम ने कांंगे्रस पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस की सरकार ने हमेशा से ही छत्तीसगढ़ की जनता के सपनों को रौंदा है। आप खुद तय करें कि आपको काम करने वाली सरकार चाहिए या फिर काम रोकने वाली सरकार चाहिए।

10 साल तक केंद्र में जो कांग्रेस की सरकार थी उसने छत्तीसगढ़ में हो रहे विकास कार्यों को अटकाने और लटकाने के भरसक प्रयास किए, इसके बाबजूद रमन सिंह जी ने छत्तीसगढ़ की विकास यात्रा को रुकने नहीं दिया।

पहले कारोबार बिचौलियों के हाथ में था इसलिए पैसा जरूरतमंद तक नहीं पहुंचता था। कांग्रेस पार्टी दलितों, पीड़ितों, शोषितों, वंचितों और गरीबों को सिर्फ और सिर्फ अपना वोट बैंक मानती है, कांग्रेस पार्टी इन्हें इंसान के रूप में देखने को तैयार नहीं है।

कांग्रेस को नहीं है आदिवासियों की समस्या की समझ

कांग्रेस ने इतने साल सरकार चलाई लेकिन क्या कारण था कि इन्होंने कानूनन बांस को पेड़ की कैटेगरी में डाल दिया। बांस आदिवासियों के अर्थव्यवस्था का केंद्र है लेकिन महलों में पले-बढ़े कांग्रेसी नेता आदिवासियों की समस्या समझ ही नहीं सके। हमारी सरकार ने बांस को पेड़ की कैटेगरी से हटाकर आदिवासियों की अर्थ व्यवस्था को मजबूत किया।

Tags
advt