राजनीति

नमो एप पर बैकफुट पर कांग्रेस, प्ले स्टोर से ऐप हटाया

बीजेपी के आईटी सेल ने री-ट्वीट कर दिया करारा जवाब

नई दिल्ली।

नमो ऐप से डाटा लीक करने के आरोप से उठे विवाद के बाद अब कांग्रेस बैकफुट पर नजर आ रही है। कांग्रेस ने अपना ऐप गूगल प्ले स्टोर से हटा लिया है साथ ही मेंबरशिप वेबसाइट को भी हटा दिया गया है। दरअसल बीजेपी ने कांग्रेस पर आरोप लगाया था कि उसने सिंगापुर के सर्वर पर डाटा लीक किया है।

बीजेपी के आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने भी एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा, मेरा नाम राहुल गांधी है। मैं देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी का अध्यक्ष हूं। जब आप हमारे आधिकारिक ऐप को साइन अप करेंगे तो हम आप से जुड़ा पूरा डाटा सिंगापुर के दोस्तों को दे देंगे। इस ट्वीट के साथ ही उन्होंने एक ग्राफिक भी शेयर किया है।

राहुल ने ट्वीटर पर उड़ाया था माजक

बता दें कि बीजेपी-कांग्रेस के बीच डाटा लीक के आरोपों की शुरुआत कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ही शुरू किया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि नमो ऐप डाउनलोड करने वालों की सारी जानकारी बीजेपी अमेरिकी एक कंपनी को दे रही है।

जिसके बाद ट्वीटर पर ‘डिलीट नमो ऐप’ भी ट्रेंड होने लगा था। पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया था,’मेरा नाम नरेंद्र मोदी है। मैं भारत का प्रधानमंत्री हूं। जब आप मेरे आधिकारिक एप (नमो) को साइन करते हैं तो मैं आपसे जुड़ी सभी जानकारी अपने दोस्तों (अमेरिकी कंपनी) को दे देता हूं।’

ये है विवाद की वजह

नमो एप से डाटा लीक होने की खबरों की शुरुआत उस समय हुई जब खबर आई कि ब्रिटिश कंपनी ने चुनाव से पहले सोशल मीडिया के लिए रणनीति तैयार करने को लेकर कांग्रेस से संपर्क साधा था।

रविशंकर प्रसाद ने आरोप लगाया कि वर्ष 2019 में होने वाले आम चुनाव से पहले प्रचार अभियान के लिए कांग्रेस ने कैम्ब्रिज एनालिटिका कंपनी से संपर्क किया था। ब्रिटिश कंपनी पर सोशल साइट फेसबुक से लिए गए डाटा का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया गया है।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *