राष्ट्रीय

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी कर रही कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक को संबोधित

संगठन के दूसरे पदों के लिए चुनाव कराने की मांग कर रहा

नई दिल्ली: कांग्रेस में अंदरूनी कलह और पार्टी के अंदर संगठन चुनाव कराने की मांग के बीच पार्टी ने कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्लूसी) की बैठक शुरू की. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सीडब्लूसी की बैठक को संबोधित कर रही हैं. ऐसे में कांग्रेस की यह सीडब्लूसी बैठक अध्यक्ष सहित पार्टी के अंदर जारी अंतर्विरोधों का समाधान तलाश पाएगी. ये सवाल सबसे बड़ा है.

दरअसल, लोकसभा चुनाव में हार के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था. कांग्रेस कार्यसमिति ने उनका त्यागपत्र स्वीकार करते हुए सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी थी, हालांकि, पार्टी का एक बड़ा तबका राहुल गांधी को फिर अध्यक्ष बनाने की मांग कर रहा है तो पार्टी का एक गुट अध्यक्ष पद से साथ-साथ सीडब्लूसी और संगठन के दूसरे पदों के लिए चुनाव कराने की मांग कर रहा है.

कांग्रेस की सीडब्लूसी की वर्चुअल बैठक इसी अतंर्विरोध के बीच हो रही है, जिसमें नए अध्यक्ष के चुनाव कार्यक्रम के साथ किसान आंदोलन और मौजूदा सियासी हालात पर चर्चा होने की उम्मीद है. सीडब्लूसी के अध्यक्ष पद के चुनाव कार्यक्रम पर मुहर लगाने के बाद तारीखों का ऐलान हो सकता है. हालांकि, कांग्रेस में नए अध्यक्ष पद का चुनाव ऐसे वक्त हो रहा है, जब पार्टी अंदरूनी संकट से जूझ रही है. पार्टी के 23 नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष को पत्र लिखकर शीर्ष नेतृत्व को लेकर कई सवाल उठाए थे.

कांग्रेस के असंतुष्ट नेता अध्यक्ष पद के साथ सीडब्लूसी और संगठन के दूसरे पदों के लिए भी चुनाव कराने की मांग कर रहे हैं. अध्यक्ष पद के साथ सीडब्लूसी के 12 सदस्यों के लिए भी चुनाव कराए जाएंगे या नहीं. इस बारे में अभी तस्वीर साफ नहीं है. हालांकि, माना जा रहा है कि असंतुष्ट नेताओं का भरोसा जीतने की कोशिश के तहत कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 19 दिसंबर को असंतुष्ट नेताओं के साथ मुलाकात कर बातचीत की थी. इस बैठक के बाद असंतुष्ठ खेमे के तेवर कुछ नरम जरूर पड़े, लेकिन अभी भी अध्यक्ष चुनाव में अपना उम्मीदवार उतारने का उनका विकल्प बंद नहीं हुआ है.

सीडब्लूसी की बैठक में छाए रहेंगे ये मुद्दे

संसद के बजट सत्र से पहले बुलाई गई कांग्रेस सीडब्लूसी की बैठक में किसानों के आंदोलन, बजट सत्र, चीनी घुसपैठ सरीखे कई अहम राजनीतिक एजेंडे पर चर्चा होगी, मगर कांग्रेस के नेताओं-कार्यकर्ताओं के लिहाज से सबसे महत्वपूर्ण मसला संगठन चुनाव के कार्यक्रमों को हरी झंडी दिए जाने का रहेगा. पार्टी के चुनाव प्राधिकरण ने कांग्रेस के नए अध्यक्ष का चुनाव कराने के लिए एआईसीसी सदस्यों की सूची तैयार करने समेत लगभग सारी तैयारियां पूरी कर ली है. नए अध्यक्ष के चुनाव कार्यक्रमों की घोषणा कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव प्राधिकरण के प्रमुख मधुसूदन मिस्त्री को संगठन चुनाव को मूर्त रूप देने के लिए सीडब्लूसी की मंजूरी का इंतजार है. माना जा रहा है कि शुक्रवार को सीडब्लूसी की बैठक में चुनाव प्राधिकरण को कांग्रेस के नए अध्यक्ष के चुनाव के कार्यक्रमों की घोषणा करने की मंजूरी दी जा सकती है. कांग्रेस शासित चारों राज्यों के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, अशोक गहलोत, भूपेश बघेल और नारायणसामी सहित पार्टी का बड़ा खेमा राहुल गांधी को दोबारा से अध्यक्ष बनाने के समर्थन में है. ऐसे में राहुल गांधी अध्यक्ष पद के लिए दोबारा से मैदान में उतरते हैं तो देखना होगा कि असंतुष्ट खेमा सहमत होता है कि नहीं. ऐसे में कांग्रेस की यह बैठक काफी अहम हो गई है, जिसमें सबसे बड़ा सवाल यही है कि पार्टी अपने अध्यक्ष को लेकर सवालों और पार्टी के अंदर चल रहे गुटबाजी का समाधान तलाश पाएगी?

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button