राजनीति

कांग्रेस : राहुल गांधी हिन्दू ही नहीं, जनेऊधारी हिंदू हैं

कांग्रेस : राहुल गांधी हिन्दू ही नहीं, जनेऊधारी हिंदू हैं

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी के अहमदाबाद के सोमनाथ मंदिर में दर्शन के दौरान विजिटर बुक में हस्‍ताक्षर को लेकर शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है.

एक ओर जहां विपक्षीय दलों को इस विवाद से राहुल गांधी पर हमला करने का मौका मिल गया है तो वहीं कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से राहुल गांधी के समर्थन में दिख रही है. कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने तो इस पूरे विवाद को भाजपा का षड़यंत्र करार दिया है.

उन्‍होंने कहा कि भाजपा उनके हिंदू होने पर विवाद खड़ा करना चाहती है और मैं आपको बता दूं कि राहुल गांधी न केवल हिंदू है बल्‍कि जनेऊधारी हिंदू हैं.

कांग्रेस ने दिखाई नई विजिटर बुक

इस पूरे मामले पर सफाई देते हुए कांग्रेस नेता दीपेंद्र हुड़डा ने प्रेस कान्‍फ्रेंस करते हुए सफाई दी कि सोशल मीडिया पर जिस तरह से राहुल गांधी के हस्‍ताक्षर वाली फोटो वायरल हो रही है वो दरअसल राहुल गांधी ने ऐसा कोई हस्‍ताक्षर किया ही नहीं है.

हमें नहीं पता कि राहुल के नाम से रजिस्‍टर में नाम किसने चढ़ाया. उन्‍होंने वायरल फोटो को दिखाते हुए कहा कि आखिर राहुल गांधी अपने नाम के साथ जी क्‍यों लगाएंगे. इसके साथ ही उन्‍होंने विजिटर बुक की एक नई कॉपी भी दिखाई, जिसमें राहुल गांधी ने अपने नाम के साथ दिल्‍ली का पता लिखा है और साथ में सोमनाथ मंदिर के बारे में लिखा एक प्रेरक स्‍थल.

कांग्रेस ने विवाद को भाजपा की साजिश बताया

कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवानल ने इस विवाद पर भाजपा पर हमला बोला और इसे भाजपा की साजिश करार दिया. उन्‍होंने कहा राहुल गांधी मंदिर जाते हैं तो भी भाजपा को इस बात से ऐतराज है. उन्‍होंने कहा कि राहुल गांधी शिवभक्‍त हैं. अगर राहुल गांधी सोमनाथ मंदिर में दर्शन करने जाएं तो इसमें आपत्‍ति क्‍या है.

राहुल गांधी के बचाव में कांग्रेस

मीडिया से बात करते हुए उन्‍होंने राहुल गांधी के कई फोटो भी दिखाए. उन्‍होंने कहा कि राहुल न सिर्फ हिंदू हैं बल्‍कि वे जनेऊधारी हिंदू हैं. पिता के शव की अस्‍थियां चुनने का काम हो या फिर बहर की शादी के समय होने वाली पूजा. हर काम में राहुल ने हिंदू धर्म का पालन किया है. उन्‍होंने भाजपा गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि गुजरात में अपनी हार पक्‍की होती देख अब भाजपा इस तरह की गलती राजनीति पर उतर आई है.

आखिर क्‍या था मामला

अहमदाबाद से कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी प्रसिद्ध सोमनाथ मंदिर में दर्शन करने पहुंचे. दर्शन के दौरान राहुल कुछ ऐसा कर बैठे, जिससे गुजरात के चुनावी माहौल में एक नया विवाद खड़ा हो गया. दरअसल, सोमनाथ के मंदिर में गैर-हिंदू दर्शनार्थियों के लिए एक रजिस्टर रखा गया है, जिसमें उन लोगों को हस्ताक्षर करने होते हैं, जो हिंदू नहीं हैं. इस रजिस्टर में राहुल गांधी के हस्ताक्षर ने चर्चाओं का बाज़ार गर्म कर दिया है. राहुल हिन्दू हैं या पारसी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.