कांग्रेस कर रही ओछी राजनीति, भाजपा के खिलाफ वर्ग विशेष को भड़काने की कोशिश : रामविचार नेताम

भारत बंद को समर्थन दिए जाने पर कहा-भाजपा के चिंतन में है दलित हित, कांग्रेस का समर्थन किस बात के लिए?

रायपुर: भारतीय जनता पार्टी के अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविचार नेताम ने भारत बंद पर कांग्रेस के समर्थन को ओछी राजनीति बताते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट के एट्रोसिटी एक्ट संबंधी निर्णय पर नरेन्द्र मोदी सरकार ने पुनर्विचार याचिका दायर कर चुकी है। न्यायालय के फैसले का हम सम्मान करते हैं। भाजपा के चिंतन में दलित हित और अनुसूचित जनजातियों की सम्पूर्ण सुरक्षा प्राथमिकताओं में है, लेकिन यह बात समझ में नहीं आती कि कांग्रेस का समर्थन किस बात के लिए है। कांग्रेस का वर्ग विशेष को समर्थन है या न्यायालय के आदेश को आधार बनाकर भाजपा के खिलाफ वर्ग विशेष को भड़का रही है। उन्होंने कहा, अनुसूचित जनजाति वर्ग या जाति विशेष के लिए कभी भी कांग्रेस ने कार्य नहीं किया।

पूछा: सीताराम केसरी को कुर्सी से क्यों ढकेला

कांग्रेस का इतिहास देखने में साबित हो जाएगा। अनुसूचित जाति जनजाति को सिर्फ वोट बैंक समझकर उसका उपयोग करने वाली पार्टी ने एक परिवार को खुश करने के लिए अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष सीताराम केसरी को कुर्सी से ढकेल दिया

कांग्रेस के दोगलापन को समझ चुकी है जनता

नेताम ने कहा कि, भाजपा ने दलित वर्ग से जब राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना, कांग्रेस ने विरोध किया, राष्ट्रपति चुना कांग्रेस ने विरोध किया जब जब देश में दलित व अनुसूचित जनजाति हितैषी निर्णय लिए जाते हैं तब कांग्रेस विरोध करती है। इससे उनकी हताशा स्पष्ट दिखती है। आज के समय में भी जब विकास को जनता मुहर लगा रही है। कांग्रेस महाराष्ट्र में मराठा आंदोलन कर रही है। गुजरात में पाटीदारों को भड़का रही है। कहीं मुस्लिम तुष्टिकरण तो कही दलित कानून सरोकार किसी से नहीं है। देश की जनता कांग्रेस के इस दोगलापना को अच्छे से समझ रही है।

1
Back to top button