छत्तीसगढ़राजनीतिराज्य

विकास के मुद्दों पर नहीं बल्कि चरित्र हत्या का खेल, खेलकर सत्ता में आना चाहती है कांग्रेस : रमन

डौंडीलोहारा चुनावी रैली में कांग्रेस पर बरसे मुख्यमंत्री

डौंडीलोहारा.

चुनाव प्रचार में निकले मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने रविवार को डौंडीलोहारा की सभा में कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि- मैं कांग्रेस के चुनाव अभियान को बारीकी से देख रहा था। कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं। इतनी हताशा है कि उनका प्रदेश अध्यक्ष अब किसी मुद्दे पर बहस करने को तैयार नहीं है। कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष मंत्रियों की नकली सीडी दिखाकर सत्ता में आना चाहता है।

रमन ने कहा कि- एक बड़े राजनीतिक दल का अध्यक्ष यदि यह काम करे कि सीडी बनाकर जनता के बीच जाए, तो यह राजनीति की गिरावट की पराकाष्ठा है। पहले तो मंत्री की सीडी बनाई और बाद में अपने ही नेता की सीडी बना ली। मैंने पूछा है कि आप सीडी- सीडी का खेल खेलोगे कि जनता के पास विकास की भी बात लेकर जाओगे। रमन सिंह ने कहा कि जनता के पास जाने की हिम्मत कांग्रेस के पास नहीं है, केवल चरित्र हत्या का खेल, खेल रहे हैं।

0-जनता के सामने बेनकाब हो गई है कांग्रेस
डॉ. रमन ने कहा कि कांग्रेस जनता के सामने बेनकाब हो गई है। पूरे देश के नक्शे में देख ले कांग्रेस गायब हो गई है। देश के नक्शे में कांग्रेस आज केवल छह प्रतिशत हिस्से में है, जबकि बीजेपी 75 फीसदी भू-भाग में काबिज है। उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह के नेतृत्व में यह विजय का रथ निकल चुका है। दुनिया की कोई ताकत इस रथ को रोक नहीं सकता।

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि- मैं सड़क, पुलिया, पुल, अस्पताल की बात नहीं करने नहीं आया हूं। मैं विश्वास की बात करने आया हूं। मैं आपको यह भरोसा देने आया हूं कि आपके विश्वास को कभी टूटने नहीं दूंगा। खंडित होने नहीं दूंगा। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि गरीबी हटाओ के नारे पर चुनाव लड़ने वाली कांग्रेस ने न गरीबी हटाई न किसानों की सुध ली। बल्कि यह और बढ़ गई। भूख से मौत हुई। लोगों ने पलायन किया। गरीब के जीवन में कोई परिवर्तन नहीं आया। गरीब के जीवन में परिवर्तन तब आया, जब 2003 में बीजेपी की सरकार बनती है। कांग्रेस ने कभी भी गरीबों को लेकर कोई सोच नहीं बनाई, कोई कल्पना नहीं की।

0-55 साल में कांग्रेस ने नहीं ली गरीबों की सुध
रमन ने कहा कि 55 साल राज करने के बाद 2000 से 2003 तक सरकार में कांग्रेस ही सत्ता में बैठी रही, बावजूद इसके उन्होंने कभी गरीबों की सुध नहीं ली, किसानों की सुध नहीं ली, गरीबों के लिए कोई योजना नहीं बनाई। किसानों के धान को डूबा डूबाकर धान खरीदते रहे।

उस दौर में किसानों को जितनी तकलीफ मिली, वह हमने देखा है। आज हमारे कांग्रेस के मित्र कहते हैं कि धान का समर्थन मूल्य 2100 रुपए क्विंटल देना होगा। मैं कहना चाहता हूं कि कांग्रेस ने सिर्फ नारे लगाए हैं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 56 सालों में गरीबों के लिए कोई योजना बनाई हो मुझे यह याद नहीं। गरीबों को कभी एक रूपए किलो चावल तक नहीं दिया। क्या कांग्रेस ने गरीबों के लिए कभी नमक की योजना बनाई? कभी उनके स्वास्थ्य की चिंता की? कांग्रेस ने कभी कुछ नहीं किया।

0-गांव,गरीब और किसान सरकार की प्राथमिकता में

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार बनने के बाद योजनाओं को जन्म हुआ। गरीबों की बेहतरी के लिए योजना बनी। छत्तीसगढ़ में परिवर्तन आया है। सड़कों का जाल बिछाने का काम किया है। गांव,गरीब और किसान हमारी प्राथमिकता में है। 2 हजार 400 करोड़ रूपए का बोनस किसानों को दे रहे हैं। कांग्रेस के जमाने में 15 फीसदी ब्याद किसानों से लेते थे। हमने उसे शून्य प्रतिशत करने का काम किया है।

गांव-गांव में बेहतर जीवन के लिए हमने बड़ा लक्ष्य तय किया। छत्तीसगढ़ का कोई पारा, टोला, मंजरा, कोई घर नहीं बचेगा जहां बिजली का कनेक्शन नहीं होगा। आज छत्तीसगढ़ में 22 हजार मेगावाट बिजली का उत्पादन हो रहा है।

एजुकेशन के हब बनाए, कौशल उन्नयन के केंद्र बनाए। रमन ने कहा कि दिल्ली में मोदी सरकार बनने के बाद राज्य की आर्थिक स्थिति बेहतर हुई है। अब यहां पैसों की वजह से कभी कोई काम नहीं रूकता। जो काम हमने 15 सालों में किया। आने वाले 4 सालों में इससे चार गुना ज्यादा विकास करके दिखाएंगे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
विकास के मुद्दों पर नहीं बल्कि चरित्र हत्या का खेल, खेलकर सत्ता में आना चाहती है कांग्रेस : रमन
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags