अबु धाबी में BAPS के विशाल हिंदू मंदिर की नींव का निर्माण कार्य अंतिम चरण में

अबु मुरेखाह एरिया में बन रहे इस मंदिर का दायरा 27 एकड़ में फैला

नई दिल्ली: राम नगरी अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के पहले दुबई में प्रभु श्रीराम का मंदिर बन जाएगा. इस मंदिर में हिंदू देवी देवताओं के ग्यारह मंदिर और होगें. इसे दीपावली 2022 में दर्शन के लिए खोल दिया जाएगा. आबूधाबी में बीएपीएस संस्था गुजरात द्वारा बनवाया जा रहे मंदिर का निर्माण भी दो साल के अंदर पूर्ण हो जाएगा. दुबई में बन रहे मंदिर का निर्माण सिंधी गुरुद्वारा कमेटी करा रही है.

इस विशाल हिंदू मंदिर की नींव का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है. मंदिर प्रबंधन ने पारंपरिक पत्थर से बनने वाले इस मंदिर को लेकर यह जानकारी दी है. सैकड़ों करोड़ की लागत से बन रहे इस मंदिर की फाउंडेशन से संबंधित वीडियो हाल ही में सोशल मीडिया पर शेयर किया गया था. आपतो बताते चलें कि अबु मुरेखाह एरिया में बन रहे इस मंदिर का दायरा 27 एकड़ में फैला है.

प्रोजेक्ट इंजीनियर ने साझा की जानकारी

इस मंदिर की परियोजना पर काम कर रहे प्रॉजेक्ट इंजिनियर के मुताबिक बुनियाद का निर्माण कार्य अंतिम चरण में जो अप्रैल के अंत तक पूरा हो जाएगा. नींव में जनवरी के बाद से करीब 4500 क्यूबिक मीटर कॉन्क्रीट पड़ चुका है.

मंदिर की नींव में बनी दो टनल के लिए पत्थर भारत से पहुंचाए गए हैं. जल्द ही इन्हें लगाने का काम भी शुरू होगा. नींव का काम अप्रैल में पूरा होने के बाद मई में नक्काशीदार पत्थरों का काम भी शुरू हो जाएगा.

इसलिए हुआ टनल का निर्माण

स्थानीय मीडिया हाउस के मुताबिक टनल लोगों को लिफ्ट तक ले जाने और पुजारियों को मंदिर तक ले जाने के लिए बनाई गईं हैं. नींव का काम पूरा होने के बाद नक्काशीदार पत्थरों और विशेष संगमरमर को ऊपर लगाते हुए मंदिर का आकार दिया जाएगा. पारंपरिक पत्थरों से बन रहे इस मंदिर की फाइनल डिजाइन और भारत में हाथ से नक्काशी किए गए पत्थरों की तस्वीरें पिछले साल साझा की गई थीं.

मंदिर में ‘अरब’ की कलाकारी

इन पत्थरों को तराशने में विशेष एहतियात बरता गया है. भारत में राजस्थान और गुजरात के स्थानीय कलाकारों ने इन्हें तैयार किया है. निर्माण कार्य के लिए खास गुलाबी पत्थर और मैसेडोनिया का मार्बल इस्तेमाल में लाया गया है. मंदिर की दीवारों और स्तंभों पर हिंदू महाग्रंथों की तस्वीरें और कहानियां होंगी और अरब देशों की कलाकारी भी देखने को मिलेगी. संस्थान के मुताबिक दुनिया के अन्य भव्य मंदिरों की तरह अबू धाबी का ये मंदिर भी बेहद भव्य और मनमोहक होगा.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button