उपभोक्ता संरक्षण विभाग के विशेष सचिव मनोज सोनी ने ली राईस मिलर्स की बैठक

मनोज मिश्रा :

उपार्जित धान का शीघ्र उठाव कर कस्टम मिलिंग करने दिए निर्देश
महासमुंद :

प्रदेश के खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के विशेष सचिव श्री मनोज सोनी ने आज जिला कार्यालय के सभाकक्ष में राईस मिलर्स की बैठक ली। उन्होंने बैठक में कहा कि समर्थन मूल्य पर उपार्जित धान का शीघ्र उठाव कर शीघ्र कस्टम मिलिंग करने को कहा।

बैठक में जिला खाद्य अधिकारी अजय यादव ने विशेष सचिव सोनी को जानकारी देते हुए बताया कि जिले के धान उपार्जन समितियों के द्वारा एक लाख 31 हजार 376.35 मैट्रिक टन धान का उपार्जन किया जा चुका है,

किन्तु जिले में संचालित 161 राईस मिलांे ने समितियों से धान उठाने के लिए 56 हजार 202 मैट्रिक टन का डिलीवरी आर्डर जारी करवा 35 हजार 941 मैट्रिक टन धान का उठाव किया गया है।

उन्होंने बताया कि समितियों में 95 हजार 470.75 मैट्रिक टन धान उठाव के लिए शेष है। विशेष सचिव ने राईस मिलर्स को निर्देशित करते हुए कहा कि जिले में जिस अनुपात में धान की खरीदी की जा रही है, उसी अनुपात में धान का उठाव करने के लिए अपनी प्रतिभूति (बैंक गारण्टी) की राशि में वृद्धि कर धान का उठाव करें।

विश्ेाष सचिव द्वारा वर्तमान में जिले की मिलिंग क्षमता के अनुपात में प्रतिभूति की राशि अत्यतं कम होने पर विशेष सचिव द्वारा नाराजगी व्यक्त की गई।

राईस मिल एसोसिएशन द्वारा विशेष सचिव के समक्ष समस्याओं से अवगत कराते हुए कहा कि इस वर्ष समिति से उठाए जा रहे पतला किस्म के धान में एल.जी. (निम्न किस्म का धान) का प्रतिशत् अधिक होने के कारण चांवल का लाट भारतीय खाद्य निगम में अस्वीकृत किया जा रहा है।

मिलर्स ने मांग कि पतला किस्म के चावल को मोटा किस्म में स्वीकार करने का अनुरोध किया एवं भारतीय खाद्य निगम को दिया जाए। मिलर्स द्वारा किस्म परिवर्तन के अंतर की राशि वहन करने के लिए तैयार है।

मिलर्स ने यह मांग भी रखी कि उन्हे पतला किस्म के धान के साथ-साथ मोटा किस्म के धान का उठाव करने के लिए भी डिलीवरी आर्डर जारी किया जाए विशेष सचिव ने उनकी समस्याओ को शासन स्तर पर यथोचित निराकरण करने का भरोसा दिलाया।

विशेष सचिव सोनी ने छत्तीसगढ़ राज्य भण्डार गृह निगम के ग्राम शेर में स्थित गोदामांे का अवलोकन किया तथा इन गोदामांे में मिलर्स द्वारा नागरिक आपूर्ति निगम की उपार्जन क्षमतानुसार चांवल नहीं लाने पर नराजगी जाहिर की।

बैठक में जिला खाद्य अधिकारी, जिला विपणन अधिकारी, जिला प्रबंधक नागरिक आपूर्ति निगम एवं नोडल अधिकारी, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अलावा जिले के राईस मिलर्स उपस्थित थे।

Back to top button