छत्तीसगढ़

एप पर एप हो रहे जारी क्या यही कोरोना का निदान है..? – पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर

पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने सोशल मीडिया के जरिए रायपुर में धारा 144 लगाए जाने पर सवाल किया है.

रायपुर। छत्तीसगढ़ में पूर्व मंत्री व भाजपा नेता अजय चंद्राकर ने राजधानी रायपुर में तीन दिनों तक लॉकडाउन को सख्त किए जाने पर प्रदेश सरकार पर सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने इससे गरीब और छोटे किसानों को होने वाले फसल नुकसान का मुद्दा उठाते हुए कहा कि वे कैसे किसी एप का इस्तेमाल करेंगे.

पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने सोशल मीडिया के जरिए रायपुर में धारा 144 लगाए जाने पर सवाल किया है. उन्होंने एसी कमेटी के ख्याल को जमीन हकीकत से दूर ख्याली पुलाव करार देते हुए कहा कि तीन दिन के कर्फ्यू जैसे हालात में किसानों के फल-सब्जी खराब हो जाएंगे, गरीब और छोटे किसान कैसे एप का उपयोग करेंगे.

एप पर एप हो रहे जारी क्या यही कोरोना का निदान है..? - पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर

पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने कहा कि भारत सरकार ने सभी सब्जी मंडियों को चालू रखने के दिशा-निर्देश जारी किया है, ऐसे में धारा 144 लागू होने से छोटे और सीमांत किसानों की आर्थिक स्थिति और दयनीय हो जाएगी. उन्होंने छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि विषम परिस्थितयों में राज्य सरकार दिशाहीन होकर निर्णय ले रही है, जो बेहत अफसोसजनक है.

आपको बता दें कि गुरुवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने फल-सब्जी ऑनलाइन डिलीवरी के लिए विशेष तौर से निर्मित वेबसाइट सीजीहाट का लोकार्पण किया था. इस वेबसाइट के जरिए लोगों को घर बैठे ही ताजे फल और हरी सब्जियां उपलब्ध हो जाएगी.

फल-सब्जी के वेंडर जो इस पोर्टल के माध्यम से सेवा देना चाहते हैं, वे इस पर ऑनलाइन अपना पंजीयन कर सकते हैं. कलेक्टर द्वारा उनका अनुमोदन होते ही वे इस पोर्टल के माध्यम से आर्डर प्राप्त करना तथा घर पहुंच सेवा देना प्रारंभ कर सकते हैं. वेडरों के लिए यह सुविधा निःशुल्क प्रदाय की जा रही है.

 

Tags
Back to top button