पलारी पुलिस द्वारा लगातार अवैध कारोबार एवं अपराध में अंकुश लगाने की कार्यवाही

थाना पलारी पुलिस द्वारा अवैध शराब शराब धन्धे में संलिप्त आरोपीयों के विरूद्ध लगातार अभियान

ब्यूरोहेड आलोक मिश्रा

बलौदाबाजार : पलारी पुलिस द्वारा लगातार अवैध कारोबार एवं अपराध में अंकुश लगाने की कार्यवाही की जा रही है। थाना पलारी द्वारा लॉक डाउन के दौरान अवैध शराब बिक्री, परिवहन करने वालों के उपर कार्यवाही करते हुये, दिनांक 09.04.2021 से दिनांक 10.07.2021 तक मात्र तीन माह में थाना पलारी पुलिस द्वारा अवैध शराब शराब धन्धे में संलिप्त आरोपीयों के विरूद्ध लगातार अभियान चलाकर कुल 105 प्रकरण में कुल 127 आरोपीयों को गिर0 कर कुल जप्त शराब की मात्रा 643.7 लीटर जप्त किया जाकर चालानी कार्यवाही की गई है एवं इसके अलावा थाना क्षेत्र में समय समय पर अवैध कार्यवाही जुआ, सट्टा पर अंकुश लगाने जुआ 03 प्रकरण, 13 व्यकित, व सट्टा खेलने व खेलाने वाले व्यक्तियों पर नकेल कसते हुये 08 प्रकरण, 09 व्यक्ति पर कार्यवाही किया गया।

ज्ञात हो कि महज 20 दिवस के अंदर 1. दिनांक 21.06.2021 को ग्राम अमेरा के अशोक कोसरिया पिता स्व0 पुनाराम कोसरिया उम्र 37 वर्ष को सट्टा लिखते पकडा गया जिस पर अपराध क्रमांक 308/2021 धारा 4(क) जुआ एक्ट पंजीबद्ध किया गया उसी प्रकार 2. दिनांक 29.06.2021 को ग्राम गातापार के दिलेश्वर भारती पिता धनीराम उम्र 23 वर्ष को सट्टा लिखते पकडा गया जिस पर अपराध क्रमांक 325/2021 धारा 4 क जुआ एक्ट पंजीबद्ध किया गया उसी प्रकार 3. दिनांक 05.07.2021 को ग्राम संडी के गुलशन साहू पिता राजेन्द्र साहू उम्र 19 वर्ष को सट्टा लिखते पकडा गया

यह भी पढ़ें :- सूरजपुर : जिला चिकित्सालय में 07 मरीजों का सफलतापूर्वक हुआ लेंस प्रत्यारोपण

जिस पर अपराध क्रमांक 335/2021 धारा 4 क जुआ एक्ट पंजीबद्ध किया गया उसी प्रकार 4. दिनांक 07.07.2021 को ग्राम बिनौरी के किशोरी लाल पिता रूपचंद चतुर्वेदी उम्र 43 वर्ष को सट्टा लिखते पकडा गया जिस पर अपराध क्रमांक 339/2021 धारा 4 क जुआ एक्ट पंजीबद्ध किया जाकर चालानी कार्यवाही किया गया है एवं जुआ एक्ट के तहत् दिनांक 06.04.2021 को ग्राम गितकेरा के तालाब पार नीचे में जुआ खेल रहे 04 लोगों के विरूद्ध अपराध क्रमांक 152/2021 धारा 13 जुआ एक्ट पंजीबद्ध किया गया

उसी प्रकार दिनांक 20.06.2021 को ग्राम अमेरा तालाब पार में जुआ खेल रहे 09 लोगों के विरूद्ध अपराध क्रमांक 301/2021, 302/2021 धारा 13 जुआ एक्ट पंजीबद्ध किया जाकर चालानी कार्यवाही किया गया है। जिससे इसमें संलिप्त व्यक्तियों व अवैध लाभार्जन करने वाले लोगों के मन में हिन भावना उत्तन्न हो रही है। जिससे पलारी पुलिस की छबि खराब करने के लिये तरह तरह की बातें कर रहे है।

ज्ञात हो की थाना पलारी में गुम इंसान ढुंढ निकालने में पलारी पुलिस स्टाप द्वारा कापी लगन व मेहनत से कुल 96 बालिग गुम इंसान की दस्तयाब किया गया तथा वरिष्ठाधिकारियों द्वारा पुलिस मुख्यालय के आदेशानुसार नाबालिग बच्चों का पता तलाश हेतु अभियान चलाया गया जिसमें कुल 32 नाबालिग बालक/बालिकाओं का अपरहण कर मामला दर्ज हुआ था जिस पे काफी लगन व मेहनत से कुल 32 नाबालिग बालक/बालिकाओं को सकुशल बरामद कर उनके परिजनों सौंपा गया तथा आरोपीयों को जेल भेजने की कार्यवाही की गई।

यह भी पढ़ें :- मुंगेली : कलेक्टर ने की महिला एवं बाल विकास विभाग के काम-काज की समीक्षा 

उसी प्रकार गैंगरेप के प्रकरण में 11 आरोपीयों को 10 घंटे के भीतर न सिर्फ गिर0 कर समयावधि के पहले चालान पेश किया गया है बल्कि प्रभावी विवेचना से आरोपीयों को आजीवन कारावास की सजा दिलाया, इसके अलावा दतान के आरोपी पुत्र राजेश मारकंडयेय ने अपने पिता मंगतू मारकंडेय का हत्या किया था जिसमें आरोपी पुत्र को गिर0 कर प्रभावी विवेचना से आरोपी को आजीवन कारावास की सजा हुई एवं संडी में 05 आरोपीयों द्वारा डकैती के घटना को अंजाम दिया जिसे पलारी पुलिस द्वारा 05 घंटे के भीतर गिर0 कर समयावधि के पहले ही चालान पेश किया गया है

एवं उसी प्रकार दिनांक 06.05.2021 को ग्राम कुसमी में पहंदा पुलिया नहर किनारे सर कटी लाश मिलने पर सुजबुझ का परिचय देते हुये अंधेकत्ल गुत्थी सुलझाते हुये मृतक कमलेश मनहरे के हत्या करने वाले पिता अमर सिंह और भाई जितेन्द्र मनहरे को गिर0 कर भेजा गया जेल।

ज्ञात हो कि आज से 09 माह पूर्व थाना सिटी कोतवाली बलौदाबाजार क्षेत्र के ग्राम सुढेली में 200 पेटी अवैध शराब आरोपी महेश ढीढी के मकान में अवैध शराब जप्त हुआ था जिसमें थाना पलारी क्षेत्र के ग्राम छेरकाडीह छ: के आरोपी परस भारद्वाज को गिर0 किया गया जिसका संबंध में पलारी पुलिस से नहीं है। इसके बावजूद भी कुछ लोग पुलिस का मनोबल गिराने के लिये और अपना हित साधने के लिये झूठा प्रचार प्रसार पर लगे है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button