छत्तीसगढ़

शहर में लगातार भारी वाहनों का प्रवेश जारी, बाईपास का नहीं हो रहा उपयोग

अंकित मिंज :

बिलासपुर। शहर के बाहर करोड़ों की लागत से बनाए गए बाइपास को छोड़ कर शहर में लगातार भारी वाहनों का प्रवेश जारी है। रात 9 बजे के बाद से रतनपुर-रायपुर मार्ग पर भारी वाहनों का तेज रफ्तार से दौड़ रहे हैं। एेसे में सड़क पार करना खतरे से खाली नहीं है।

शहर में भारी वाहनों का प्रवेश रोकने के लिए पीडब्ल्यूडी ने करोड़ों की लागत से 4 बड़े-बड़े बाइपास का निर्माण कराया था। बाइपास से भारी वाहनों को शहर के बाहर से डायवर्ट करने की व्यवस्था होनी थी।

रायपुर से मुंगेली जाने वाले वाहनों को पेण्ड्रीडीह- सकरी बाइपास से डायवर्ट किया जाने का नियम बनाया गया। इसी प्रकार रायपुर से रायगढ़ और जांजगीर जाने वाले वाहनों को पेण्ड्रीडीह- लालखदान बाइपास से डायवर्ट किया जाना था।

सरकण्डा अंतर्गत मोपका-सेंदरी मार्ग से सीपत से रतनपुर जाने वाले वाहनों को डायवर्ट करने और कोटा-रतनपुर मार्ग व तुर्काडीह पुल से कोनी, सकरी बाइपास से रतनपुर से रायपुर जाने वाले वाहनों को डायवर्ट करने की व्यवस्था की गई थी।

हाईकोर्ट के आदेश के बाद कुछ दिनों तक वाहनों को बाइपास से डायवर्ट किया गया, लेकिन बाद में पुलिस ने वाहन चालकों को छूट दे दी। वर्तमान में भारी वाहन रात ९ बजे के बादसे शहर में वाहन प्रवेश कर रहे हैं।

बिल्डिंग मटैरियल वाले वाहन भी खतरनाकः

शहर में बिल्डिंग मटैरियल लेकर प्रवेश करने वाले वाहन भी खतरे से खाली नहीं है। ट्रैक्टर और हाइवा में बिल्डिंग मटैरियल लेकर चालक तेज रफ्तार से शहर में दौड़ रहे हैं।

भारी वाहनां के कारण शहर में जाम की स्थिति निर्मित हो रही है। कलेक्टर ने आवश्यक वस्तुओं से संबंधित वाहन, दूथ, सब्जी, पेट्रोल, डीजल, खाद्य सामग्री के वाहनों को शहर में दोपहर १२ से ३ बजे तक परिहन की अनुमति दी है, लेकिन शहर में यह वाहन भी सुबह से देर शाम तक शहर में दौड़ रहे हैं।

01 Jun 2020, 6:43 AM (GMT)

India Covid19 Cases Update

198,317 Total
5,608 Deaths
95,714 Recovered

Tags
Back to top button