अन्यखेल

निशानेबाज मनु और खेल मंत्री विज के बीच इनामी राशि को लेकर विवाद

उनमें से अधितकर टूर्नामेंट्स हिस्सा लेने की राशि और ईनामी राशि अभी तक नहीं मिली है.

युवा महिला निशानेबाज मनु भाकेर और हरियाणा सरकार के खेल मंत्री अनिल विज के बीच इनामी राशि को लेकर छिड़ी बयानबाजी में मनु के पिता रामकिशन भाकेर ने नया बयान देकर नया मोड़ ला दिया है.

मनु के पिता ने कहा है कि बीते दो वर्षों में मनु ने जितने भी टूर्नामेंट खेले हैं, उनमें से अधितकर टूर्नामेंट्स हिस्सा लेने की राशि और ईनामी राशि अभी तक नहीं मिली है.

मनु के पिता ने कहा कि जूनियर और सीनियर स्तर पर उनके बेटी ने जितने टूर्नामेंट खेले उनमें हिस्सा लेने के लिए भी खिलाड़ी को पैसा मिलता है जो मनु को नहीं मिला है.

साथ ही इस दौरान जितने भी ईनामी राशि थी उसका पैसा भी उन्हें नहीं मिला है.

दरअसल, मनु और अनिल विज के बीच विवाद एक ट्वीट को लेकर छिड़ा, जिसमें मनु ने अनिल को यूथ ओलम्पिक में स्वर्ण जीतने पर दी जाने वाली दो करोड़ की राशि को लेकर सवाल किया था.

मनु का सवाल हरियाणा सरकार की 27 दिसंबर को जारी उस नोटीफिकेशन को लेकर था, जिसमें हरियाणा सरकार ने स्वर्ण पदक विजेता को एक करोड़ रुपये देने की बात कही थी.

मनु ने अपने ट्वीट में अनिल से सवाल किया था कि क्या यूथ ओलम्पिक में स्वर्ण पदक जीतने पर उनको जो दो करोड़ की ईनामी राशि देने की बात कही गई थी, उसमें कटौती की गई है? इस पर अनिल ने मनु को अपने खेल पर ध्यान देने की बात कही थी.

इस संबंध में जब मनु के पिता से आईएएनएस ने बात की थी तो उन्होंने कहा कि जब से यह घोषणा हुई थी तब से लगभग हर महीने वह जिला खेल विभाग में राशि मिलने के बारे में पूछने जाते थे.

मनु के पिता ने साथ ही कहा कि बीते दो साल में उनकी बच्ची ने जितने टूर्नामेंट्स खेले उनमें से अधिकतर में हिस्सा लेने की राशि और ईनामी राशि उन्हें नहीं मिली.

p>मनु के पिता ने हालांकि कहा कि एक टीवी चैनल पर बातचीत में अनिल ने आश्वासन दिया है कि जनवरी तक उनको राशि मिल जाएगी.

मनु के पिता ने कहा, ‘अनिल जी ने एक समाचार चैनल पर बातचीत में हमें आश्वासन दिया है कि इस जनवरी तक हमें सारा पैसा मिल जाएगा.

मनु ने 27 दिसंबर को जारी नोटीफिकेशन को लेकर उनसे सवाल किया था. हमें बाद में बताया गया कि जो नोटीफिकेशन जारी किया गया था वह भविष्य के लिए था और मनु को जो दो करोड़ की राशि देने की बात कही थी वह पूरी की जाएगी.’

मनु के पिता से जब पूछा गया कि क्या यह पहली बार है कि उनकी बेटी को ईनामी राशि का पैसा देने में देरी हो रही है तो उन्होंने जबाव देते हुए कहा कि उसे बीते तकरीबन दो साल से मनु को अधिकतर टूर्नामेंट्स हिस्सा लेने और ईनामी रााशि का पैसा नहीं मिला है.

मनु के पिता ने कहा, ‘सिर्फ राष्ट्रमंडल खेलों को छोड़ दिया जाए तो मनु ने बीते दो साल में जितने टूर्नामेंट्स खेले हैं चाहे वह विश्व कप, एशियन कप, एशियन चैम्पियनशिप, राष्ट्रीय चैम्पियनशिप सहित जूनियर सा सीनियर स्तर पर जितने टूर्नामेंट्स जीते हैं,

उनमें हिस्सा लेने के लिए जो राशि दी जाती है साथ ही जो ईनामी राशि की घोषणा की गई थी वो मनु को अभी तक नहीं मिली है.’ मनु ने इसी साल आईएसएसएफ विश्व कप में 10 मीटर एयर पिस्टल में स्वर्ण पदक जीत सुर्खियां बटोरी थीं.

इसी के साथ उन्होंने इसी साल ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित किए गए राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण पदक जीता था.

Summary
Review Date
Reviewed Item
निशानेबाज मनु और खेल मंत्री विज के बीच इनामी राशि को लेकर विवाद
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button