छत्तीसगढ़

किसानों की कर्ज माफी की अटकलों के बीच सहकारी बैंक ने वसूले पांच करोड़

अंकित मिंज..........

बिलासपुर| समर्थन मूल्य पर धान बेचने न बेचने और कर्ज माफी की अटकलों के बीच जब किसानों ने धान बेचना शुरू किया तो जिला सहकारी केंद्रीय बैंक ने भुगतान से पहले कर्ज की राशि पर कैंची चला दी ।

कर्ज की राशि वसूलने के बाद बकाया राशि को किसानों के बैंक खाता में जमा करना शुरू किया है। आंकड़ों पर नजर डालें तो बैंक ने तकरीबन पांच करोड़ रुपये अब तक वसूल कर लिया है.

जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अंतर्गत चार जिलों को शामिल किया गया है। इसमें बिलासपुर, जांजगीर-चांपा व मुंगेली जिला शामिल है। चुनावी लाभ लेने के लिए सत्ताधारी दल ने इस बार एक नवंबर से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी शुरू कर दी थी।

इसी बीच कांग्रेस ने समर्थन मूल्य बढ़ाने के साथ ही कर्ज माफी और दो वर्ष के बकाया बोनस देने की घोषणा कर दी। लिहाजा किसानों ने धान बेचना बंद कर दिया था। अब जबकि मतदान हो गया है और 11 दिसंबर को मतगणना होनी है।

लिहाजा किसानों का धान खलिहानों से अब जाकर खरीदी केंद्र की ओर पहुंचना शुरू हुआ है। बैंक के आंकड़ों पर नजर डालें तो अब तक चारों जिलों में स्थित खरीदी केंद्रों के जरिए 10 लाख 98 हजार 669 क्विंटल धान की खरीदी की गई है।

खास बात ये कि लिंकिंग के अंतर्गत बैंक ने 34 करोड़ रुपये का धान अतिरिक्त खरीदा है। लिंकिंग के अंतर्गत खरीदे धान के जरिए 500 से अधिक कर्जदार किसानों से बैंक ने पहले कर्ज की वसूली की और फिर उसके बाद बकाया राशि का भुगतान किया है।

बैंक ने ऐसे किसानों से करीब पांच करोड़ रुपये की वसूली की है। बैंक के खरीदी आंकड़ों पर गौर करें तो 26 हजार 726 किसानों से धान खरीदी के बाद भी अब तक एक दर्जन खरीदी केंद्रों में बोहनी नहीं हो पाया है।

मतलब साफ है इन केंद्रों में किसानों ने धान बेचना शुरू नहीं किया है। लगता है इनको नई सरकार के आने का इंतजार है। जिले जहां के खरीदी केंद्रों में नहीं हो पाई बोहनी

बिलासपुर जिले के चार जांजगीर.चांपा जिले के छह व मुंगेली जिले के दो खरीदी केंद्र में आज भी सन्नाटा पसरा हुआ है।

कोरबा के सभी 41 खरीदी केंद्रों में धान की आवक शुरू हो गई है|

चारों जिलों में पंजीकृत किसानों की संख्या. तीन लाख 29 हजार 669
अब तक किसानों ने बेचा धान.

चारों जिलों में पंजीकृत किसानों की संख्या. तीन लाख 29 हजार 669

अब तक किसानों ने बेचा धान. 26 हजार 726

0 बैंक ने खरीदा धान. 10 लाख 98 हजार 669 क्विंटल

0 लिंकिंग के जरिए खरीदा धान. 34 करोड़ रुपये

0 बाक्स

चारों जिलों में खरीदी केंद्र की संख्या. 462

बिलासपुर . 128

जांजगीर.चांपा. 205

कोरबा. 41

मुंगेली. 88

जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अंतर्गत आने वाले चार जिलों में अब तक 10 लाख 98 हजार 669 क्विंटल धान की खरीदी हो चुकी है।

26 हजार 726 किसानों ने धान बेच लिया है। एक दर्जन खरीदी केंद्रों में खरीदी की प्रक्रिया प्रारंभ नहीं हो पाई है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
किसानों की कर्ज माफी की अटकलों के बीच सहकारी बैंक ने वसूले पांच करोड़
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags