प्रदेश में 7 मई तक बढ़ेगा कोरोना कर्फ्यू ! समीक्षा बैठक में सीएम ने दिए निर्देश

18 जिलों के अधिकारियों को कड़ाई से पालन करा

भोपाल। मध्यप्रदेश जनसंपर्क कार्यालय ने सीएम शिवराज सिंह चौहान की अपील को लेकर ट्वीट किया है, जिसमें 7 मई तक कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिए गए हैं, साथ ही कहा गया है कि संक्रमण की चेन तोड़ने से ही कोरोना पर विजय पाई जा सकती है। मुख्यमंत्री के इस निर्देश के बाद यह माना जा रहा है ​कि ज्यादा संक्रमण वाले जिलों में 7 मई तक कोरोना कर्फ्यू बढ़ाया जा सकता है, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज अपने निवास में वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से 18 जिलों के प्रभारी मंत्रीगणों तथा अधिकारियों के साथ कोरोना के नियंत्रण की समीक्षा बैठक की।

इसके पहले 25 अप्रैल को राजधानी भोपाल सहित जबलपुर, खंडवा, देवास, शाजापुर, खरगोन, मंदसौर, रतलाम, सागर, बड़वानी, सतना, अशोकनगर, बैतूल, विदिशा, धार में कोरोना कर्फ्यू को आगे बढ़ा दिया गया था। भोपाल, खरगोन, मंदसौर, छिदवाड़ा, देवास, धार में कोरोना कर्फ्यू को 3 मई तक बढ़ाया गया था, वहीं खंडवा, शाजापुर में 30 अप्रैल और जबलपुर, सागर, सतना और रतलाम में एक मई तक इसे बढ़ाया गया था।

मुख्यमंत्री ने प्रभारी अधिकारियों से कहा कि संक्रमण की चेन तोड़ने में सबसे ज्यादा कारगर उपाय कोरोना कर्फ्यू है। जनता को प्रेरित कर इसका कड़ाई से पालन सुनिश्चित करें। जनता कर्फ्यू कोई लॉकडाउन नहीं है, जनता द्वारा स्वयं संक्रमण से सुरक्षा के लिए लिया गया निर्णय है। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है प्रदेश के लगभग 90 प्रतिशत ग्राम पंचायतें, अपने गाँवों में कोरोना कर्फ्यू लगाने का स्वयं संकल्प ले चुकी हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिलों के जिन क्षेत्रों में संक्रमण दर अधिक है वहाँ किल कोरोना अभियान-2 चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत रीवा, सीहोर, सतना, रायसेन, दतिया, अनूपपुर, नीमच, शिवपुरी, नरसिंहपुर और श्योपुर आदि जिले हैं। उन्होंने कहा कि संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों में माइक्रो कन्टेनमेंट क्षेत्र घोषित कर संक्रमण को वहीं रोक दें। सर्वे में संभावित मरीजों को तत्काल मेडिकल किट एवं सावधानी संबंधी ब्रोशर उपलब्ध करावाकर होम आईसोलेट कराये।

मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश के एक्टिव प्रकरण में आज पहली बार कमी देखने को मिली है। कल तक 94 हजार 276 एक्टिव प्रकरण थे, जो आज घटकर 92 हजार 773 हो गए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि प्रदेश के छिंदवाड़ा, शाजापुर, पन्ना, आगर-मालवा, उमरिया, कटनी, अनूपपुर, गुना, देवास एवं बड़वानी ऐसे 10 जिले हैं जहाँ प्रतिदिन नए पॉजिटिव केसों में कमी आई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के कुछ जिलों में नए पॉजिटिव केस निरंतर बढ़ रहे हैं। प्रदेश के इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर और उज्जैन में इन केसों में निरंतर वृद्धि हो रही है। राज्य सरकार का प्रयास है कि सभी जिलों में ऑक्सीजन और इंजेक्शन का आवश्यकतानुसार वितरण किया जा सके।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button